...............
जब तक लोग पूरी तरह से जागरूक नहीं होंगे बीमारियों की चपेट में आते रहेंगे। जागरूकता अभियानों को आमजन व ग्रामीण क्षेत्र तक पहुंचाने की जरूरत है।
...............
सेहत के मोर्च पर पहाड़ी प्रदेश पानी पानी होने लगा है। अभी स्वाइन फ्लू से निपटने की तैयारी हो ही रही थी कि मंडी व शिमला में डायरिया ने डंक मार दिया है। सेहत के मोर्चे पर नई मुश्किलों से निपटना प्रदेश सरकार व स्वास्थ्य विभाग के लिए बेशक चुनौती है, लेकिन सतर्कता और जागरूकता से इससे पार पाया जा सकता है। गर्मी की दस्तक के साथ प्रदेश में लोग बीमारियों की चपेट में आने लगे हैं। चौंकाने वाला मामला स्वाइन फ्लू का है, जिसके कारण अब तक दो लोगों की मौत हो चुकी है और करीब 25 लोग पॉजिटिव पाए गए हैं। स्वाइन फ्लू फैलने पर हैरानी इसलिए है कि यह सर्दी में फैलने वाला रोग है। इंदिरा गांधी मेडिकल कॉलेज व अस्पताल शिमला के विशेषज्ञ अब शोध करने वाले हैं कि गर्मी में स्वाइन फ्लू कैसे फैला। अभी तक शिमला, कांगड़ा व मंडी में इस रोग के कारण लोग ज्यादा प्रभावित हुए हैं। इसके अलावा मंडी जिले के शिवाबदार में खसरा रोग लोगों के लिए परेशानी खड़ी कर रहा है। द्रंग हलके की इस पंचायत में अब तक 31 लोग इस बीमारी से पीडि़त पाए गए हैं। शिमला शहर और मंडी जिले के बागाचुनोगी में डायरिया के मामले सामने आने का कारण प्रदूषित पानी को माना जा रहा है।
चिकित्सकों का भी मानना है कि स्वाइन फ्लू स्वस्थ्य व्यक्ति के लिए खतरनाक नहीं है, लेकिन जागरूकता के कमी में यह जानलेवा बन जाता है। स्वस्थ व्यक्ति को इस वायरस से खांसी, जुकाम व बुखार आ सकता है, लेकिन दिल, सांस और शुगर के रोगियों के लिए यह बेहद खतरनाक है। इससे रोगों से लडऩे की क्षमता कम हो जाती है। इन बीमारियों से ग्रस्त मरीज के स्वाइन फ्लू की चपेट में आने से हालत गंभीर हो सकती है। अब भी लोग स्वाइन फ्लू के संबंध में पूरी तरह से जागरूक नहीं है। जब तक लोग पूरी तरह से जागरूक नहीं होंगे, इसकी चपेट में आते रहेंगे। हालांकि स्वास्थ्य विभाग इससे बचाव के लिए जागरूकता अभियान चला रहा है, लेकिन उसकी पहुंच आमजन व ग्रामीण क्षेत्र में तक होने की जरूरत है।
साथ ही गर्मियों के मौसम में दूषित पानी से फैल रही डायरिया जैसी बीमारियों से भी सावधान रहने की जरूरत है। पहाड़ की सेहत को पानी पानी होने से बचाने के लिए सतर्कता, जागरूकता व बेहतर सरकारी प्रयासों की जरूरत रहेगी।

[ स्थानीय संपादकीय : हिमाचल प्रदेश ]

Posted By: Bhupendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस