नए साल का स्वागत हम नई उम्मीदों और संकल्पों से करते हैं। दिसंबर से ही न्यू ईयर रिज़ॉल्यूशंस की लिस्ट बनाना शुरू कर देते हें। न्यू ईयर रिज़ॉल्यूशन अपनी या समाज की बेहतरी के लिए ख़्ाुद से किया गया प्रॉमिस होता है। कोई उन्हें सीरियसली पूरा करने के लिए बनाता है तो कोई बस जोश-जोश में। कुछ लोग फस्र्ट जनवरी को तो बहुत गंभीरता से अपना रिज़ॉल्यूशन पूरा करते हैं पर दिन बीतते-बीतते उस संकल्प को भुला देते हैं।

कोई भी संकल्प तभी लेना चाहिए जब हमारे अंदर उसे पूरा करने का जज़्बा हो। दूसरों के कहने पर या जोश में कुछ भी यूं ही सोच लेने की आदत से बचना चाहिए। अगर अभी तक आपने कोई रिज़ॉल्यूशन नहीं बनाया है तो नज़र डालते हैं कुछ ख़्ाास रिज़ॉल्यूशंस पर। हो सकता है कि उनसे आपकी कुछ मदद हो सके।

स्टडी वेल

मम्मी-पापा डेली टोकते हैं कि बेटा, पढ़ाई का अपना फिक्स टाइम-टेबल बनाओ, एकाग्रता से पढ़ो और अच्छे नंबर लाओ। उन्हें हमारी $िफक्र है, तभी तो इतना ध्यान देते हैं। इस साल पढ़ाई में अपने जलवे दिखा कर ख़्ाुश कर दो सबको।

फेमिली टाइम

सारा दिन दोस्तों के साथ घूमते रहते हो। घर में होकर भी $फोन पर ही बिज़ी रहते हो। आग लगे इस मोबाइल को। ओह माइ गॉड! ये ताने कितने बुरे लगते हैं न। इनसे बचने का बस एक ही तरी$का है कि नए साल से अपनी फेमिली के साथ हम नए रिश्ते $कायम करें।

लूज़ सम वेट

बस खाना, टीवी देखना और सोना... ऐसा करना अच्छा तो बहुत लगता है पर इससे हमारी हेल्थ पर $गलत असर पड़ता है। बैठे-बैठे वज़न बढ़ाने से बेहतर है कि इस साल हम कुछ हेल्दी फूड हैबिट्स के साथ ही एक्सरसाइज़ को भी अपनी दिनचर्या में शामिल करें।

अर्ली टु बेड, अर्ली टु राइज़

रात भर जगने से अच्छा है कि सुबह जल्दी उठ जाया करो.. अगर आपकी मॉर्निंग भी इसी ताने के साथ होती है तो इस साल अपने घरवालों को ज़रा जल्दी उठ कर सरप्राइज़ कर दो। सुबह की ताज़ा हवा आपका पूरा दिन ख़्ाुशनुमा कर देगी।

डोंट एंग्री मी

इससे तो कुछ कहना ही बेकार है, अभी मुंह फूल जाएगा... अगर आपकी नाक पर भी ग़्ाुस्सा बैठा रहता है तो इस साल सबको थोड़ा कूल होकर दिखा दो। आपके अंदर आया यह पॉजि़टिव चेंज औरों के साथ ही आपको भी बहुत शांति देगा।

स्टॉप कंप्लेनिंग

शिकायतें करने के अलावा तुम्हें आता भी क्या है?... अरे, अरे.. उसके अलावा भी बहुत कुछ आता है। इस साल से प्रण ले लीजिए कि बेकार में कोई भी शिकायत नहीं करेंगे। जितना है, उतने में ही संतुष्टï रहेंगे और दूसरों को भी शिकायत का कोई मौ$का नहीं देंगे।

दीपाली पोरवाल

Posted By: Babita kashyap