जागरण संवाददाता, नई दिल्ली :

चाइनीज एप पर प्रतिबंध के बीच विश्व हिदू परिषद (विहिप) ने वीडियो स्ट्रीमिग एप पर भी नकेल कसने की मांग की है। विहिप के राष्ट्रीय प्रवक्ता विनोद बंसल ने कहा कि वेब दुनिया के अनियंत्रित खिलाड़ियों ने हिदू समाज को बदनाम करने की सुपारी ले रखी है। ऐसे में इनपर लगाम आवश्यक है। ट्विटर पर उन्होंने इस संबंध में विहिप के राष्ट्रीय महामंत्री मिलिद परांडे का वह पत्र साझा किया है। 28 मई को उन्होंने सूचना व प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को पत्र लिखकर वीडियो स्ट्रीमिग एप पर नियामक के लिए बोर्ड के गठन की मांग की थी। पत्र में कहा गया था कि इन वीडियो स्ट्रीमिग एप पर अधर्म, पाप के साथ आतंकवाद व साम्प्रदायिकता को भी बढ़ावा दिया जा रहा है। इसके साथ ही खुले आम धार्मिक, सामाजिक व राष्ट्रीय मान बिदुओं का उपहास भी उड़ाया जा रहा है। बता दें कि इसके पहले भी विहिप द्वारा कुछ एप के कंटेंट पर धार्मिक भावनाएं आहत होने का हवाला देते हुए विरोध दर्ज कराया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस