नई दिल्‍ली, शुजाउद्दीन। मंगलवार शाम को अचानक उत्तर प्रदेश के किसानों का जत्था दिल्ली-नोएडा बॉर्डर पर पहुंच गया। किसानों ने ट्रैक्टर-ट्राली से बॉर्डर के रास्ते को बंद कर दिया। वाहनों की आवाजाही पूरी तरह से बंद कर दी। किसानों के पहुंचते ही आनन-फानन में दिल्ली पुलिस के जवान दलबल के साथ बॉर्डर पर पहुंचे और मोर्चा संभाला। बॉर्डर बंद हो जाने से दिल्ली नोएडा लिंक रोड पर भीषण जाम लग गया। किसी तरह मयूर विहार व चिल्ला के अंदर के रास्तों से छोटे वाहन चालक नोएडा तक पहुंचे। बड़े वाहन चालक नोएडा लिंक रोड पर ही खड़े रहे। किसानों को लगा कि उनके बंद का असर नहीं हो रहा है तो उन्होंने चिल्ला के रास्ते को बंद कर दिया। शाम छह बजे तक लिंक रोड से नोएडा जाने के सारे रास्ते बंद कर दिए।

बॉर्डर से लेकर किशन कुंज तक कई किलोमीटर तक जाम लगा रहा। वाहन चालक हलकान रहे, वाहन चालकों को समझ नहीं आ रहा था आखिर वह करें तो क्या करें। वाहन चालक किसानों से रास्ते खोलने का आग्रह करते रहे, हाथ जोड़ते रहे। लेकिन उन्होंने अपने आगे किसी की नहीं सुनी, किसानों ने दो टूक कहा कि जब तक सरकार उनकी नहीं सुन लेती वह किसी की नहीं सुनेंगे। बॉर्डर बंद होने से एनएच-9, त्रिलोकपुरी, मयूर विहार, डीएनडी, विकास मार्ग व अन्य रिहायशी इलाकों तक में जाम लगा रहा।

आइटीओ से बॉर्डर तक आठ किलोमीटर का सफर तय करने में वाहन चालकों को एक घंटे का समय लगा। किसानों ने ऐसा जाम लगाया कि पुलिस को रूट डायवर्ट करने तक का समय नहीं मिला। किसी को शादी में जाना था तो कोई अपने ऑफिस से नोएडा घर जा रहा था, सभी जाम में फंस गए।

रोड पर वाहनों के हॉर्न का शोर ही रहा, वाहन चालक नोएडा के लिए रास्ता तलाश करते रहे। बहुत से लोगों ने मोबाइल पर गूगल मेप के जरिये नोएडा जाने के लिए रास्ता तलाशा भी, लेकिन जाम होने के कारण वह वहां तक पहुंच नहीं सके। ट्विटर पर लोगों ने जमकर सरकार और किसानों पर भड़ास निकाली, वाहन चालकों ने अपना कसूर पूछा। पुलिस ने भी अपने हाथ खड़े कर दिए कि वह किसी तरह की मदद नहीं कर सकते। कुछ वाहन चालक मयूर विहार व चिल्ला होते हुए नोएडा जाने लगे, इस कारण रिहायशी इलाकों में भी भीषण जाम लग गया। वाहन चालक एक दूसरे से बाहर निकलने का रास्ता पूछते रहे। वाहन चालकों के सामने यह भी समस्या थी कि अगर वह वाहन छोड़कर मेट्रो से चले जाते हैं तो उनका वाहन कोई चोरी न कर ले या पुलिस उठाकर न ले जाए।  

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021