जागरण संवाददाता, दक्षिणी दिल्ली: जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम में शनिवार को 'व‌र्ल्ड ऑन ए प्लैटर' कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसके तहत बनाए गए स्किल इंडिया पैवेलियन में दर्जन भर से अधिक संस्थानों व स्वयं सहायता समूहों ने अपने उत्पाद प्रदर्शित किए। इसमें हुनरमंदों ने अपना कौशल दिखाया। इस कार्यक्रम के जरिये लोगों को स्किल इंडिया प्रोग्राम के प्रति जागरूक भी किया जा रहा है। इस दो दिवसीय कार्यक्रम का आयोजन स्वाका स्किल्स की ओर से किया जा रहा है।

स्वाका स्किल्स के प्रबंध निदेशक शरद चौधरी ने बताया कि इस आयोजन का मकसद हुनरमंद उद्यमियों को एक अंतरराष्ट्रीय मंच पर अपना कौशल प्रदर्शित करने का अवसर उपलब्ध कराना है। इससे स्किल इंडिया के तहत प्रशिक्षण ले रहे युवाओं का हौसला भी बढ़ेगा। हमारा मिशन कौशल प्रशिक्षण देकर युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराना है। स्वाका स्किल्स की सचिव गुंजन चौधरी ने बताया कि संस्था ने अमेठी में 50 लड़कियों को करीब 60 प्रकार के अचार बनाने का प्रशिक्षण दिलाया। इनके बनाए अचार को यहां पर अमेठी पिकल्स ब्रांड नाम से लांच किया गया है।

पैवेलियन में जयपुर रग्स फाउंडेशन की ओर से कालीन व गलीचे बनाए जा रहे हैं। फाउंडेशन की मार्केटिंग व रिसर्च हेड मेघना जैन ने बताया कि देश भर के कुशल कारीगर संस्था के लिए गलीचा व कालीन बनाते हैं। इससे उन्हें बड़े पैमाने पर रोजगार मिल रहा है। वहीं, आरोग्य पीठ के न्यूरोथेरेपी हेल्थ कंसल्टेंट आचार्य रामगोपाल दीक्षित ने पैवेलियन आने वाले लोगों का थेरेपी के जरिये इलाज किया। उन्होंने बताया कि युवाओं को इसका प्रशिक्षण देकर उन्हें रोजगार उपलब्ध कराया जा रहा है। कार्यक्रम के दौरान बिलीव इंडिया की संस्थापक मल्लिकार्जुन इथा, राष्ट्रीय कौशल विकास निगम के प्रबंध निदेशक मनीष कुमार आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran