नई दिल्ली, ऑनलाइन डेस्क। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के छतरपुर इलाके में हुए श्रद्धा वालकर हत्याकांड (Shraddha Walkar Murder Case) के आरोपित आफताब अमीन पूनावाला का बुधवार को भी पॉलीग्राफ टेस्ट का दूसरा सेशन पूरा नहीं हो सका। बुधवार को दिल्ली के रोहिणी स्थित विधि विज्ञान प्रयोगशाला में आफताब का पॉलीग्राफ टेस्ट (Aaftab Polygraph Test) करीब छह घंटे चला। इसके बाद पुलिस प्रयोगशाला से आफताब को लेकर दक्षिणी दिल्ली के लिए रवाना हो गई। 

फोरेंसिक साइंस लेबोरेटरी (FSL) के पीआरओ संजीव के गुप्ता ने बताया कि आफताब को बुखार की शिकायत के बाद आज पॉलीग्राफ टेस्ट अधूरा रहा। पुलिस उसे कल (शुक्रवार) दोबारा FSL लाएगी और बाकी पॉलीग्राफ टेस्ट फिर से शुरू होगा। 

इस संबंध में एफएसएल की निदेशक दीप वर्मा ने कहा कि आफताब का पॉलीग्राफ हुआ है। उससे कई सवाल पूछे गए हैं, हो सकता कल भी आफताब को टेस्ट के लिए बुलाया जाए।

लव लाइफ से लेकर मर्डर तक पूछे कई सवाल

सुत्रों के अनुसार, पॉलीग्राफ टेस्ट में मनोवैज्ञानिकों ने आफताब से उसके लिव-इन रिलेशनशिप से लेकर श्रद्धा के मर्डर तक कई सवाल पूछे। पूछताछ के दौरान कमरे में दो कुर्सी व एक टेबल थी। मनोवैज्ञानिक एक-एक करके आफताब से सवाल पूछ रहे थे। 

पल्स रेट में हुआ उतार-चढ़ाव 

एक मनोवैज्ञानिक पूछताछ करके बाहर आया तो दूसरा कमरे के अंदर गया। पूछताछ के दौरान सबसे पहले उसके बारे में पूछताछ कर उसे रिलेक्स किया गया। सात सवाल पूछने के बाद श्रद्धा की हत्या से संबंधित सवाल पूछे गए। इस दौरान आरोपित की पल्स रेट में उतार-चढ़ाव हुआ।

नार्को टेस्ट के दौरान भी पूछे जाएंगे ऐसे सवाल

मनोवैज्ञानिक उसी सवाल के इर्द-गिर्द के सवाल पूछे, जिस सवाल के दौरान वह असहज हुआ था। इसके साथ ही जिन सवालों के दौरान आफताब के पल्स रेट में उतार चढ़ाव हुआ, उन्हें अंडरलाइन किया गया। अंडरलाइन किए गए सवालों को ही घुमा-फिराकर नार्को टेस्ट के दौरान पूछा जाएगा। टेस्ट की वीडियोग्राफी भी कराई गई। 

ये भी पढ़ें- 

Shraddha Murder Case: श्रद्धा को ब्लैकमेल करता था आफताब, 2 साल पहले दी थी हत्या की धमकी

Noida: श्रद्धा मर्डर के बीच सामने आई नोएडा के शख्स की दास्तान, पत्नी की मौत के झूठे आरोप में 9 साल बाद हुआ बरी

Edited By: Abhishek Tiwari

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट