राज्य ब्यूरो, नई दिल्ली

आरोप प्रत्यारोपों के बीच कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के बीच दिल्ली में गठबंधन की कवायद अभी भी जारी है। इसी कड़ी में बुधवार की शाम आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सदस्य संजय सिंह और दिल्ली कांग्रेस के प्रभारी पीसी चाको के बीच लंबी मुलाकात हुई।

सूत्रों के मुताबिक 131 नार्थ एवेन्यू में रहने वाले संजय सिंह शाम करीब साढ़े चार बजे 141 नार्थ एवेन्यू में रहने वाले चाको के घर पहुंचे। दोनों के बीच यह मुलाकात करीब पौने घंटे तक चली। बताया जा रहा है कि इस बैठक में गठबंधन पर ही चर्चा हुई और चार एवं तीन सीटों के फार्मूले पर भी विचार किया गया। यहां यह भी उल्लेखनीय है कि संजय सिंह ने रविवार को भी चाको को फोन कर मिलने का समय मांगा था।

हालांकि दोनों ही नेताओं की ओर से इस मुलाकात को लेकर कोई औपचारिक बयान नहीं दिया गया है, लेकिन इसका कयास स्पष्ट तौर पर यही लगाया जा रहा है कि प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष शीला दीक्षित के तमाम विरोधों के बावजूद गठबंधन की संभावना बरकरार है। दोनों ही पार्टियां जानती हैं कि अगर वे अकेले-अकेले चुनाव लड़ती हैं तो यह दिल्ली की सातों सीटें भाजपा को प्लेट में परोसने जैसा ही होगा।

दूसरी तरफ दैनिक जागरण से बातचीत में प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष हारून यूसुफ ने कहा कि गठबंधन पर अंतिम निर्णय पार्टी आलाकमान राहुल गांधी को ही लेना है। उन्होंने यह भी कहा कि बृहस्पतिवार को तो आलाकमान का अमेठी में उनका नामांकन होना है। इसलिए शुक्रवार को ही अब इस बाबत कोई फैसला लिए जाने के आसार हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस