नई दिल्ली, जागरण डिजिटल डेस्क। सिलिकॉन वैली कहे जाने वाले बैंगलुरू का हाल ही में हुई बारिश ने क्या हाल कर दिया, इसके बारे में आपको पता होगा। सोशल मीडिया पर आपने कई वीडियो देखें होंगे, जहां सड़के तालाब बन गईं। वहीं, आईटी हब कहने जाने वाले दिल्ली से सटे गुरुग्राम और नोएडा में भी बारिश ने हालात बिगाड़ दिए। 24 घंटे में हुई बारिश ने इन शहरों की व्यवस्था की कलई खोल दी।

सड़कों पर हुए जलभराव ने नोएडा और गुरुग्राम में व्यवस्था की पोल खोल दी। नोएडा में जिलाधिकारी ने शुक्रवार और शनिवार के लिए कक्षा 1 से 8 तक की स्कूलों में छुट्टी के निर्देश दे दिए। वहीं, गाजियाबाद में भी शनिवार तक कक्षा 8वीं तक के स्कूलों में छुट्टी का निर्देश दिया है। गुरुग्राम में भी कारपोरेट सेक्टर में प्रशासन ने वर्क फ्रॉम होम करने की सलाह दी है।

ये भी पढ़ें- यात्रियों के लिए रेलवे ने की व्यवस्था, दिवाली और छठ पर हर दिन चलेंगी 10 स्पेशल ट्रेनें, देखें लिस्ट

नोएडा में बारिश से हाल बेहाल

शुक्रवार सुबह आठ बजे से बूंदाबांदी के साथ शुरु हुई बारिश का पानी सरकारी दफ्तरों, कालोनियों और सेक्टरों में पानी भरने से लोगों को खासी परेशानी हुई। शहर के चौराहों, गलियों और सड़कों पर लोगों का निकलना मुश्किल हो गया। बारिश अधिक होने से लोग घरों और दफ्तरों में कैद होकर रह गए।

बारिश धीमी होने पर लोग निकले, लेकिन सड़कों पर पानी अधिक होने से बेबस होकर रह गए। बारिश के बाद इससे मौसम सुहावना हो गया। लोगों को गर्मी से राहत मिली। मौसम हल्का ठंडा हो गया। बीते 24 घंटे में 30-35 मिलीमीटर के बीच बारिश हुई।

इन जगहों पर रहा जाम

शहर के प्रमुख चौराहों से लेकर दिल्ली नोएडा बार्डर तक जाम रहा। एलिवेटेड रोड, नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस-वे, सेक्टर-95 ओखल पक्षी विहार, सेक्टर-62 माडल टाउन गोलचक्कर, सेक्टर-38ए जीआइपी माल, सेक्टर-61 यू-फ्लैक्स, सेक्टर-58 लेबर चौक, सेक्टर-66 मामूरा, पर्थला गोलचक्कर, राष्ट्रीय दलित प्रेरणा स्थल के पास जाम रहा।

गुरुग्राम में वर्क फ्रॉम होम करने की सलाह

गुरुग्राम में भारी बारिश के बाद जिला प्रशासन ने सभी कारपोरेट कार्यालयों और निजी संस्थानों के लिए एडवाइजरी जारी की है कि वे अपने यहां कार्यरत कर्मचारियों को शुक्रवार को घर से काम करने की अनुमति दें ताकि बारिश की वजह से लगने वाले ट्रैफिक जाम से बचा जा सके। साथ ही सड़क व ड्रेन बनाने वाली एजेंसियां उनकी मरम्मत और रखरखाव का कार्य आसानी से कर सकें।

ये भी पढे़ं- Delhi NCR Rain: नोएडा-गाजियाबाद में अब 26 सितंबर को खुलेंगे स्कूल, दिल्ली एनसीआर में जाम से लोग परेशान; येलो अलर्ट जारी

दिल्ली गुरुग्राम एक्सप्रेसवे बारिस से तालाब बन गया। यहां घुटनों तक पानी भर गया था। पैदल चलने वाले लोग यहीं से निकलने को मजबूर थे। वहीं, यातायात भी प्रभावित हो गया। यहां कई किमी तक लंबा जाम लग गया। कई जगहों पर कार, बाइक फंस गईं। इनसे लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा।

दिल्ली में भी हालात खराब

राजधानी दिल्ली में दूसरे दिन बारिश का सर्वाधिक असर पूर्वी दिल्ली और दक्षिणी दिल्ली में देखने को मिला। पूर्वी दिल्ली यानी यमुनापार इलाके में दिन भर वर्षा होने से विनोद नगर के पास एनएच-नौ की सर्विस रोड पर, पटपड़गंज रोड पर पांडव नगर के पास अंडरपास, झिलमिल अंडरपास, सीमापुरी से विवेक विहार जाने वाले अंडरपास, मंडावली, गाजीपुर और अन्य सड़कों पर जलभराव हो गया। सड़कों पर पानी इतना अधिक था कि वाहन चालकों और राहगीरों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा।

जाम और जलभराव से यहां रही परेशानी

दिल्ली में एमबी रोड, आउटर रिंग रोड, डिफेंस कालोनी, आरकेपुरम, वायुसेनाबाद, संगम विहार, अधचिनी, लाजपत नगर, गिरि नगर, गोविंदपुरी, तुगलकाबाद एक्सटेंशन आदि इलाकों में जलभराव हुआ। सरिता विहार अंडरपास, मां आनंदमयी मार्ग, एमबी रोड पर बत्रा अस्पताल के पास दोनों ओर वाहनों का दबाव रहा। इसके अलावा सीआर पार्क, सावित्री सिनेमा रोड, नेहरू प्लेस, हौजखास, शाहपुर जाट, आरके पुरम, मुनिरका में भी जलभराव से आफत रही। पश्चिमी दिल्ली के द्वारका, द्वारका मोड़, पालम मेट्रो स्टेशन, पालम ककरौला रोड, मायापुरी जंक मार्केट में जलभराव ने बढ़ाई।

दिल्ली एनसीआर में बारिश की संभावना

आईएमडी के वरिष्ठ वैज्ञानिक आरके जेनामणि ने कहा कि उत्तराखंड के लिए 23 से 25 सितंबर तक बहुत भारी बारिश के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। शनिवार को पश्चिमी यूपी में बारिश बढ़ने की उम्मीद है।

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने शुक्रवार को कहा कि दिल्ली, गुरुग्राम, फरीदाबाद, मानेसर, बल्लभगढ़, गाजियाबाद, गुरुग्राम, नोएडा में बारिस होगी। इन शहरों में गुरुवार से लगातार बारिश हो रही है। दिल्ली एनसीआर में भी अगले कुछ दिनों तक बारिश की संभावना जताई है।

Edited By: Geetarjun