नई दिल्ली (जेएनएन)। विज्ञापनों के चलते राजनीति की नई परिपाटी लिखने वाली आम आदमी पार्टी (AAP) फिर विवादों में है। आप सरकार द्वारा पंजाबी भाषा को लेकर सभी समाचार पत्रों में दिए गए विज्ञापन पर विपक्ष ने केजरीवाल पर सरकारी पैसे के दुरुपयोग का आरोप लगाया है।

गौरतलब है कि दिल्ली में पंजाबी भाषा को बढ़ावा देने के लिए केजरीवाल सरकार ने दिल्ली के हर सरकारी स्कूल में पंजाबी शिक्षक की नियुक्ति का फैसला किया है।

कांग्रेस ने किया हमला

दिल्ली के दिग्गज कांगेसी नेता अजय माकन ने ट्वीट कर आरोप लगाया है कि दिल्ली में कर्मचारी वेतन न मिलने की वजह से हड़ताल कर रहे हैं और केजरीवाल सरकार पंजाब में विज्ञापन पर करोड़ों खर्च कर रही है।

माकन में बताया पब्लिसिटी स्टंट

कांग्रेस ने इसे पब्लिसिटी स्टंट बताते हुए कहा कि सरकार घोषणा को अमल में लेकर कब आएगी? कांग्रेस इस तरह की घोषण के पीछे आप की पंजाब चुनाव रणनीति के रूप में देख रही है।

भाजपा ने भी बोला आप पर हमला

अब भाजपा ने भी सरकारी खजाने के दुरुपयोग का आरोप लगाते हुए कहा कि आम आदमी पार्टी (AAP) राजनीतिक फायदा लेने के लिए सरकारी धन का दुरुपयोग कर रही है। भाजपा नेता विजेंद्र गुप्ता ने कहा कि पंजाब चुनाव को ध्यान में रखकर दिल्ली सरकार बड़े बड़े विज्ञापन दे रही है।

आप ने किया कांग्रेस-भाजपा पर पलटवार

दिल्ली में आम आदमी पार्टी के विधायक जरनैल सिंह ने सरकार का पक्ष रखते हुए कहा कि अगर अन्य राज्यों में सरकार के काम के विज्ञापन दिल्ली में लग रहे हैं तो यहां के विज्ञापन दूसरे राज्यों में लगने पर आपत्ति क्यों है?

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस