राज्य ब्यूरो, नई दिल्ली : बस में यदि कोई महिलाओं को परेशान करे, तो बस में लगे पैनिक बटन को दबाकर महिलाएं मदद की गुहार लगा सकती हैं। राजधानी में महिलाओं की सुरक्षा को मजबूत करने की दिशा में दिल्ली सरकार ने बसों में पैनिक अलार्म सिस्टम को पायलट प्रोजेक्ट के तहत लाच किया है। फिलहाल यह सुविधा कुछ बसों में होगी, जिसे मार्च 2019 तक सभी बसों में शुरू कर दिया जाएगा।

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस की पूर्व संध्या पर इस सुविधा को लाच करते हुए परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने कहा कि दिल्ली सरकार ने महिला सुरक्षा को मजबूत करने की दिशा में बसों में तीसरी सुविधा दी है। इससे पहले सभी डीटीसी बसों में मार्शल तैनात किए गए। फिर 200 बसों में पायलट प्रोजेक्ट के तहत सीसीटीवी कैमरे लगाए गए और अब पैनिक बटन लगाया गया है।

उन्होंने कहा कि मार्च 2019 तक सभी डीटीसी और कलस्टर बसों को पैनिक फ्री बना दिया जाएगा। हमारी कोशिश महिला सुरक्षा को बेहतर बनाने की है। पैनिक अलार्म को बेंगलुरु स्थित एनजीओ की मदद से लागू किया गया है। हालांकि यह सुविधा अभी पांच कलस्टर बसों में ही शुरू की गई है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस