जागरण संवाददाता, पूर्वी दिल्ली : न्यू उस्मानपुर इलाके में नाले के निर्माण कार्य के दौरान लापरवाही ने एक महिला की जान ले ली। मृतक की पहचान निशा के रूप में हुई है। वह अपने ढाबे से बाहर निकली थीं। इसी दौरान नाले के निर्माण कार्य के लिए रखा सरिया उनके घुटनों के ऊपर पैर में घुस गया। अधिक खून बहने की वजह से उनकी मौत हो गई। पुलिस ने निशा के पति महेंद्र की शिकायत पर ठेकेदार पुनीत के खिलाफ लापरवाही से मौत का मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस आरोपित की तलाश में जुटी है।

जानकारी के मुताबिक निशा परिवार के साथ गली नंबर 16, भजनपुरा में रहती थीं। पति महेंद्र न्यू उस्मानपुर के गामड़ी एक्सटेंशन में बाबे दा ढाबा नाम से भोजनालय चलाते हैं। महेंद्र के अनुसार उनके ढाबे के आगे नगर निगम का नाला है। इस नाले पर निर्माण कार्य चल रहा है। इसमें नुकीले सरिया लगे हुए हैं। ठेकेदार पुनीत ने निर्माण कार्य के दौरान सुरक्षा के लिए किसी तरह का कोई इंतजाम नहीं किया है। शनिवार को उनकी पत्नी निशा ढाबे पर आई थीं। दोपहर में घर लौटने लगीं। इसी दौरान नुकीला सरिया निशा के पैर में घुस गया। अधिक खून निकलने से निशा तुरंत बेहोश होकर गिर गई। सूचना पर उनके बेटे ध्रुव मौके पर पहुंचे और उन्हें जग प्रवेश चंद अस्पताल लेकर गए। यहां डॉक्टरों ने निशा को मृत घोषित कर दिया। महेंद्र का आरोप है कि ठेकेदार पुनीत ने सुरक्षा के लिए कोई इंतजाम किया होता तो यह हादसा नहीं होता।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस