जागरण संवाददाता, नई दिल्ली : बैंक में रुपये जमा करने के लिए आने वाले लोगों से ठगी करने वाले एक बदमाश को कनॉट प्लेस थाना पुलिस ने दबोचा है। उसकी पहचान पानीपत (हरियाणा) निवासी दीपक के रूप में हुई है। वह दिल्ली, गाजियाबाद, चंडीगढ़, फरीदाबाद में ठगी की दस से अधिक वारदात कर चुका है। आठ फरवरी को दीपक ने कनॉट प्लेस स्थित पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) की शाखा में दस लाख रुपये जमा कराने आए निजी कंपनी के कर्मचारी से पांच लाख रुपये ठग लिए थे।

डीसीपी मधुर वर्मा ने बताया कि निजी कंपनी के कर्मी तरुण मारवाह आठ फरवरी को पीएनबी की शाखा में गए थे। उस समय पौने चार बज गए थे। कैशियर ने देर होने की बात कह कर तरुण से वापस जाने को कहा। इसी दौरान बैंक में ही मौजूद एक व्यक्ति तरुण को मिला। उसने स्वयं को बैंक का कर्मचारी बताया और मैनेजर व वरिष्ठ अधिकारियों से मिलकर पैसे जमा करा देने की बात कही। इसके बाद उसने तरुण को झांसे में लेते हुए कहा कि उनके पास ज्यादा नकदी है, इसलिए कैशियर पैसे जमा करने से मना कर रहा है। अगर वह पांच-पांच लाख रुपये दो अलग-अलग स्लिप से भरकर देंगे तो कैशियर ले लेगा। तरुण आरोपित के झांसे में आ गए। उन्होंने पांच लाख रुपये आरोपित को दिए और दो स्लिप भरने लगे। इसी दौरान दीपक पांच लाख रुपये लेकर बैंक से फरार हो गया। तरुण की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज किया। जांच के लिए एसीपी अखिलेश्वर यादव के निर्देशन में एसएचओ विनोद नारंग, एसआइ अमित कुमार व अन्य की टीम ने आरोपित की तलाश शुरू की। सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली गई। सोमवार को पुलिस को सूचना मिली कि आरोपित दीपक गाजियाबाद के शालीमार गार्डन में आने वाला है। पुलिस ने वहां से दीपक को दबोच लिया। पूछताछ में उसने बताया कि वह करीब 19 वर्ष से ठगी कर रहा है। जुए और नशे की लत के कारण उस पर बहुत ज्यादा कर्ज है, जिसे चुकाने के लिए वह ठगी करता है। पुलिस ने उसकी गिरफ्तारी से कनॉट प्लेस में दो, तिलक नगर, मनी माजरा, चंडीगढ़, कोतवाली गाजियाबाद व फरीदाबाद सेक्टर-16 का एक-एक मामला सुलझाने का दावा किया है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप