नई दिल्ली/नोएडा। लोकसभा चुनाव के नतीजे भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के लिए सुनामी की तरह रहे। मतगणना के दिन सत्ताधारी पार्टी की सुनामी चलती रही। जिससे पार्टी कार्यकर्ता जश्न में डूबे में नजर आए। इस प्रचंड जीत में शामिल होने के लिए खुद मेघराज (मौसम) भी पहुंचे। बृहस्पतिवार देर शाम आंधी-तूफान के बाद
हल्की बारिश हुई। जिसने जश्न में डूबे पार्टी कार्यकर्ताओं का जोश भीषण गर्मी में हाई करने का काम किया।

बृहस्पतिवार को जहां, सत्ताधारी पार्टी को प्रचंड बहुमत मिलने से विरोधियों के दांत खट्टे हो गए, तो वहीं देश में भाजपा समर्थक मोदी सरकार की वापसी का जश्न मनाने में मशगूल रहे। देर शाम पांच बजी चली आंधी, तूफान
और उसके बाद हुई हल्की बारिश ने इस जश्न को बल देने का काम किया। बारिश से तापमान में हल्की गिरावट दर्ज की गई। गर्मी से परेशान पार्टी कार्यकर्ताओं को हल्की राहत मिली।

मौसम विभाग ने एक दिन पहले ही दिल्ली और उसके आस-पास के इलाकों में धूल भरी आंधी-तूफान आने का अनुमान जारी किया था। विभाग के मुताबिक शुक्रवार को भी धूल भरी आंधी चल सकती है। बारिश की भी आशंका है। इससे पहले अधिकतम तापमान तकरीबन तीन डिग्री के बढ़ोतरी के साथ ही 40 डिग्री दर्ज किया गया है। जबकि न्यूनतम तापमान में दो डिग्री की गिरावट के साथ 22 डिग्री रहा है। दिल्ली-एनसीआर के साथ-साथ
दक्षिण भारत में भी मौसम का मिजाज बदल गया।

प्री-मॉनसून बारिश में कमी
देश के कई हिस्सों में कृषि के लिए महत्वपूर्ण समय मार्च से मई महीने तक मानसून से पहले की बारिश में 22 फीसद की कमी दर्ज की गई है। मौसम विभाग के आंकड़ों से यह पता चला है। मौसम विभाग ने एक मार्च से 15 मई तक 75.9 मिलीमीटर बारिश दर्ज की, जो कि सामान्य से करीब 22 फीसद कम है।  इस बार मानसून थोड़ा देर से है, यह केरल में पांच दिन की देरी के साथ छह जून को पहुंचेगा। निजी मौसम एजेंसी स्काईमेट ने चार जून को मानसून के केरल पहुंचने की संभावना व्यक्त की है। जबकि मौसम विभाग के मुताबिक छह जून को मानसून केरल पहुंचेगा।

दिल्ली-NCR की ताजा खबरों को पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Mangal Yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप