नई दिल्ली, जेएनएन। दिनभर तेज धूप और गर्मी के बाद बृहस्पतिवार शाम को अचानक दिल्ली और एनसीआर के मौसम का मिजाज बदल गया। दिल्ली के साथ एनसीआर के शहर गुरुग्राम, फरीदाबाद, सोनीपत, गाजियाबाद और नोएडा में धूल भरी आंधी चल रही है। इसी के साथ 50-60 किलोमीटर की रफ्तार से चल रही हवाओं ने लोगों को परेशान कर दिया। हालांकि, तेज हवाओं के चलने से तापमान में भी थोड़ी गिरावट आ गई है, जिससे लोगों को हल्की राहत भी मिली है। 

वहीं, हरियाणा में मेवात में जहां तेज आंधी तो पिनगंवा में ओले गिरे हैं, लेकिन इससे जानमाल की कोई खबर नहीं है। आंधी के चलते कई जगहों पर पेड़ों के गिरने की भी सूचना है। 

एनसीआर में घने बादल छाए हुए हैं। मौसम विभाग ने भी अनुमान जताया है कि दिल्ली के ज्यादातर इलाकों के साथ इससे सटे नारनौल, कुरुक्षेत्र, झज्जर, खरखौदा, पलवल, फरीदाबाद, होडल,  (हरियाणा) के साथ शामली, नोएडा, गाजियाबाद में भी हल्की बारिश हुई। 

भारतीय मौसम विभाग (Indian Meteorological Department) ने पहले ही पूर्वानुमान जता दिया था कि  बृहस्पतिवार शाम को तेज हवा चलने के साथ ही बारिश भी सकती है। इससे तापमान में कुछ हद तक गिरावट आ सकती है, जिससे लोगों को राहत मिलेगी।

मौसम विभाग के मुताबिक ही बृहस्पतिवार को दिन में बादल छाए रहे। आंधी के चलते तापमान में मामूली गिरावट भी देखने को मिली। 4 मई तक ऐसी स्थिति रहेगी। उसके बाद तापमान में फिर इजाफा होना शुरू होगा।मौसम विभाग के अनुसार, शुक्रवार को गर्मी से थोड़ी राहत मिल सकती है। 

8 साल में सबसे अधिक गर्म रहा
यहां पर यह भी पता दें कि दिल्ली में रिकॉर्ड तोड़ पड़ रही गर्मी से बुधवार को थोड़ी राहत मिली, बावजूद इसके बीते आठ साल में 1 मई को एक बार फिर तापमान सबसे अधिक रहा। वर्ष 2011 के बाद से अब तक तापमान कभी भी 40 डिग्री के पार नहीं गया।

8 साल के दौरान 1 मई का तापमान

  • 2018 में 34 डिग्री
  • 2017 में 39 डिग्री
  • 2016 में 37 डिग्री
  • 2015 में 31 डिग्री
  • 2014 में 31 डिग्री
  • 2013 में 32 डिग्री
  • 2012 में 37 डिग्री
  • 2011 में 33 डिग्री


उधर, भीषण चक्रवाती तूफान फानी (Cyclone Fani) के शुक्रवार को ओडिशा के पुरी में दस्तक देने की आशंका के मद्देनजर रक्षा बलों को हाई अलर्ट पर रखा गया है। बताया जा रहा है कि अगले कुछ  घंटों में यह समुद्र तट से टकरा सकता है। इसके चलते ओडिशा में शैक्षणिक संस्थानों को बंद रखने के आदेश दिए गए हैं और तटीय जिलों में रह रहे हजारों लोगों को सुरक्षित इलाके में पहुंचाया गया है।

यूपी समेत कई राज्यों में हो सकता है फानी का असर
मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिकि, फानी का असर उत्तर प्रदेश, बिहार, उत्तराखंड, झारखंड, पश्चिम बंगाल, सिक्किम और तमिलनाडु और पुडुचेरी में भी दिख सकता है। मौसम विभाग इसके लेकर उत्तर प्रदेश के किसानों के लिए चेतावनी भी जारी की है। 

दिल्ली-NCR की ताजा खबरों को पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: JP Yadav