नई दिल्ली, जागरण डिजिटल डेस्क। उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश में भी जोरदार बारिश हो रही है। इन जगहों से पानी मैदानी इलाकों में पहुंच रहा है। इसका असर दिल्ली पर भी दिखाई देने लगा है। हरियाणा के हथिनीकुंड से भारी मात्रा में छोड़े गए पानी के चलते यमुना नदी के बढ़ते जलस्तर को देखते हुए लोहे का पुल बंद किया जा सकता है। फिलहाल दिल्ली में यमुना का जलस्तर 205.17 मीटर पर है जो चेतावनी स्तर  (204.50 मीटर) को पार कर चुका है। बता दें कि यमुना का चेतावनी स्तर 204.50 है। उधर, जिला प्रशासन के अधिकारियों का कहना है कि जलस्तर बढ़ने से खतरे वाली कोई बात नहीं है। किसी इलाके में पानी नहीं भरा है, बैराज से अभी इतना पानी भी नहीं छोड़ा जा रहा है जिसे बाढ़ की स्थिति बने। बावजूद इसके हम सतर्क हैं।

वहीं, पिछले तीन दिन से लगातार बारिश होने से यमुना में भी पानी बढ़ गया है। इस वजह से हथनी कुंड बैराज से अधिक मात्रा में पानी छोड़ा जा रहा है। लिहाजा, दिल्ली में भी यमुना के जल स्तर में बढ़ोतरी हो रही है।

सिंचाई व बाढ़ नियंत्रण विभाग के अनुसार पिछले 24 घंटे में हथनी कुंड बैराज से एक लाख 60 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा गया है, जो इस साल सबसे अधिक है। इसके बाद बृहस्पतिवार को सुबह छह बजे भी एक लाख तीन हजार 245 क्यूसेक पानी छोड़ा गया गया है। यह पानी अगले दो दिनों में दिल्ली पहुंचने पर यमुना के निचले हिस्सों में पानी भरने की आशंका हो सकती है।

इन इलाकों में बाढ़ का खतरा

  • यमुना खादर इलाका
  • आइएसबीटी के आसपास का इलाका

     

निचले इलाकों में बाढ़ का खतरा

बताया जा रहा है कि सिंचाई व बाढ़ नियंत्रण विभाग ने निचले इलाकों में रहने वालों लोगों के लिए अलर्ट भी जारी कर दिया है।

Delhi Meerut Expressway: दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे सफर पर करने वालों के लिए बड़ी खबर, नियम तोड़ा तो घर आएगा चालान

इससे पहले बृहस्पतिवार को शहरी विकास मंत्री सत्येंद्र जैन ने बताया कि यह इस पर निर्भर है कि हथिनी कुंड से कितना और पानी छोड़ा जाता है। पहाड़ों में लगातार बारिश हो रही है जिससे पानी बढ़ रहा है। उन्होंने बताया कि यमुना में पानी के खतरे के निशान तक पहुंचने को देखते हुए दिल्ली सरकार ने पूरी तैयारी की है। 

#WATCH: दिल्ली: राजधानी दिल्ली में कुछ दिनों से हो रही बारिश के बाद यमुना नदी का जलस्तर बढ़ गया है। वीडियो लोहा पुल का है। pic.twitter.com/UqyV8h2fmH

— ANI_HindiNews (@AHindinews) July 30, 2021

 वहीं दिल्ली में जलभराव के मुद्दे पर जैन ने कहा कि अधिक वर्षा हो जाने पर पानी निकलने में कुछ समय लगता है। मगर दिल्ली सरकार की ओर से अपने नालों की पूरी तरह से सफाई कराई गई है। नगर निगमों के नालों के बारे में शिकायत आती रहती है।

 

Edited By: Jp Yadav