जागरण संवाददाता, नई दिल्ली। राजा राव तुलाराम के बलिदानी दिवस के अवसर पर सेना में अलग से अहीर रेजिमेंट गठन की मांग को लेकर संयुक्त अहीर रेजिमेंट मोर्चा ने जंतर मंतर पर प्रदर्शन किया। इन्होंने मांग करते हुए कहा कि सेना में अलग से अहीर रेजिमेंट बनाई जाए। प्रदर्शनकारी पोस्टर-बैनर के साथ नारेबाजी करते दिखे। प्रदर्शनकारियों ने कहा कि जनसंख्या के मामले में यादवों को अधिक संख्या है, जिससे अलग से अहीर रेजिमेंट बनाई जानी चाहिए।

प्रदर्शन में पूर्व सांसद डीपी यादव समेत कई नेता हुए शामिल

परमवीर चक्र विजेता कैप्टन योगेंद्र यादव के नेतृत्व में दिल्ली के जंतर मंतर पर हुए प्रदर्शन में यादव समाज की लगभग 36 बिरादरियों के लोगों ने अहीर रेजिमेंट के गठन की मांग उठाई। पूर्व सांसद डीपी यादव (DP Yadav) ने कहा कि 1996 में लोकसभा में उन्होंने रक्षा मंत्री की मौजूदगी में अहीर रेजिमेंट बनाने की मांग की थी।

अहीर देश की बहादुर क़ौम है। देश को जब भी बलिदान की ज़रूरत पड़ी है इस क़ौम के जवानों ने अपना बलिदान देकर देश की रक्षा करने का काम किया है। महाभारत काल से लेकर आजतक यदुकुल का इतिहास इस बात का पुख़्ता सुबूत है कि इन बहादुर नौजवानों में देश-प्रेम की भावना कूट-कूट कर भरी है और इसी बुनियाद पर वे अहीर रेजिमेंट का समर्थन करते हैं। उन्हें प्रधानमंत्री मोदी पर पूरा विश्वास है कि उनके रहते अहीर रेजिमेंट बनाने की ये बरसों पुरानी मांग पूरी हो सकती है। 

मांग को नहीं माना गया तो तेज होगा प्रदर्शन

मोर्चा के राष्ट्रीय महासचिव मनोज यादव ने कहा कि देश की आजादी में अहीरों ने अपना बलिदान दिया है। इसके बावजूद हमारी मांग नहीं मानी जा रही है। उन्होंने कहा कि अलग-अलग राज्यों में सात महीनों से प्रदर्शन चल रहा है लेकिन उनकी मांग को पूरा नहीं किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अगर मांग को नहीं माना जाता है तो आने वाले दिनों में पूरे देश में प्रदर्शन किया जाएगा।

पिछले क़रीब 7 महीने से चल रहा है धरना

बताते चलें कि गुरुग्राम के खेड़की दौला टोल प्लाज़ा पर पिछले 7 महीनों से अहीर रेजिमेंट के गठन की मांग को लेकर अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे संयुक्त अहीर रेजिमेंट मोर्चा ने बीते दिनों ही ये घोषणा की थी कि वे अपनी मांग को लेकर 23 सितंबर को दिल्ली के जंतर मंतर पर एक विशाल प्रदर्शन करेंगे, जिसके लिए मोर्चा के नेताओं ने देश के अलग-अलग इलाकों से अहीर समाज के लोगों को बड़ी तादात में दिल्ली में इकठ्ठा होने की अपील की थी।

Edited By: Vijay Kumar