नई दिल्ली, जेएनएन। दुनियाभर में जेंटलमैन गेम (Gentleman Game) माने जाने वाले क्रिकेट के एक  खिलाड़ी को लेकर दिल्ली में एक हैरान करने वाला घोटाला सामने आया है। एक युवक को अंडर 19 क्रिकेट टूर्नामेंट (Under 19 world Cup Tournament) में शामिल कराने के लिए उम्र घटाकर दिखाई गई। इतना ही नहीं इसके लिए कागजों में भी हेरफेर किया गया। यह सब गड़बड़ी क्रिकेटर के माता-पिता ने की। शिकायत के बाद जांच  और अब यह मामला कोर्ट पहुंच गया है। 

दिल्ली क्रिकेट में उम्र के इस घोटाले में जांच के बाद दिल्ली पुलिस ने तीस हजारी कोर्ट में चार्जशीट दायर कर दी है। इस मामले के सामने आने के बाद लोगों ने क्रिकेटरों की उम्र की जांच प्रक्रिया पर भी सवाल उठाए हैं। दिल्ली पुलिस की चार्जशीट के मुताबिक, पिछले साल न्यूजीलैंड में हुए अंडर-19 क्रिकेट टूर्नामेंट जीतने वाली भारतीय टीम में शामिल मनजोत कालरा ने फर्जी सर्टिफिकेट के आधार पर अपनी उम्र एक साल कम करवाई थी। टूर्नामेंट में यह खिलाड़ी मैन ऑफ दी मैच तक रहा।

पुलिस की जांच में सामने आया है कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (Board of Control for Cricket in India) और स्कूल द्वारा जारी रिकॉर्ड/सर्टिफिकेट में अलग-अलग जन्म तिथियां हैं। यहां पर बता दें कि मनजोत का मामला अकेला नहीं है, दिल्ली पुलिस ने जांच में और कई खिलाड़ियों को इसमें लिप्त पाया है, जिनकी जांच प्रक्रिया जारी है। 

पटियाला हाउस कोर्ट में पेश कई गई पुलिस की चार्जशीट के मुताबिक, क्रिकेटर मनजोत कालरा के माता पिता पर आरोप है कि दिल्ली में जूनियर क्रिकेट खेलने के लिए उन्होंने अपनी उम्र को एक साल घटाकर बताया। शिकायत के बाद दिल्ली पुलिस की विशेष जांच टीम ने जांच की तो पूरे मामले का सनसनीखेज खुलासा हुआ।

जांच के बाद स्पेशन इंवेस्टीगेटिव टीम ने तीस हजारी कोर्ट चार्जशीट दायर कर पूरे मामले का खुलासा किया है। चार्जशीट में साफतौर पर कहा गया है कि मनजोत कालरा की मूल जन्मतिथि 15 जनवरी, 1998 है, जबकि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के रिकॉर्ड में मनजोत कालरा की जन्मतिथि 15 जनवरी, 1999 है। गौरतलब है कि मनजोत तब नाबालिग थे, इसलिए एफआइआर में उनके माता-पिता का ही नाम है। 

यहां पर बता दें कि पूर्व सांसद व क्रिकेटर कीर्ति आजाद ने इस मामले में चार साल पहले वर्ष 2014-15 में इस बाबत मामला दर्ज कराया था। इसके बाद पूरे मामले की जांच SIT कर रही थी। 

जांच के दौरान मनजोत के स्कूल रिकॉर्ड की जांच की गई तो इस गड़बड़ी का पता चला, इतना ही नहीं मनजोत कालरा के पासपोर्ट को गलत जन्मतिथि के साथ रिन्यूवल कराया गया है। इसके बाद बीसीसीआइ के रिकॉर्ड को खंगाला गया तो अलग ही जन्म तिथि मिली। इसके बाद एसआइटी ने पूरे मामले की जांच तो परत दर परत खुलासे होते गए। 

वहीं, इंडियन प्रीमियर लीग (आइपीएल) के 12वें संस्करण में अपनी बेहतरीन तेज गेंदबाजी से प्रभावित करने वाले मुंबई इंडियंस के 17 साल के तेज गेंदबाज रासिख सलाम भी उम्र को लेकर विवादों में पड़ गए हैं। जम्मू एवं कश्मीर राज्य स्कूल शिक्षा बोर्ड ने राज्य क्रिकेट संघ को बताया है कि रासिख ने अपनी उम्र के साथ फर्जीवाड़ा किया है। इस मामले में दस्तावेजों के मुताबिक, बोर्ड ने जम्मू एवं कश्मीर क्रिकेट संघ (जेकेसीए) को पत्र लिखकर कहा है कि रासिख ने जो उम्र क्रिकेट बोर्ड को बताई है, वो स्कूल के रिकॉर्ड से मेल नहीं खाती। 

दिल्ली-NCR की ताजा खबरों को पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: JP Yadav