नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। दिल्ली पुलिस की मेट्रो यूनिट ने मेट्रो यात्रियों के साथ नोटों की गड्डी दिखा कर ठगी करने वाले आरोपित को एक नाबालिग के साथ पकड़ा है। आरोपित बवाना के जेजे कालोनी निवासी विकास एक नाबालिग के साथ मिलकर मेट्रो यात्रियों के साथ धोखाधड़ी कर रहा था।

पुलिस ने 25 हजार रुपये मोबाइल बैग किए बरामद

आरोपितों के पास से पुलिस ने ठगे गए 25 हजार रुपये मोबाइल फोन व बैग बरामद किया गया है। मेट्रो यूनिट के डीसीपी जितेंद्र मणि ने बताया कि बिहार के पटना निवासी अंकित कुमार से दोनों आरोपितों ने नोटों की गड्डी दिखा कर उनका बैग, मोबाइल व एटीएम कार्ड ठग लिया था।

एटीएम से भी निकाले पैसे

आरोपितों ने पीड़ित के एटीएम कार्ड से 2500 रुपये भी निकाल लिए थे। पीड़ित को आरोपितों ने बताया कि वह लोग अपने मालिक के यहां से एक लाख रुपये चुरा लाए हैं। पीड़ित को विश्वास में लेने के लिए आरोपितों ने नोटों की गड्डी भी दिखाई थी। आरोपितों ने बताया कि वह इन रुपये को बैंक में जमा करना चाहते हैं लेकिन उन्हें जमा करना नहीं आता। आरोपित उनका बैग, मोबाइल आदि लेकर फरार हो गए थे।

अंतरराष्ट्रीय ड्रग तस्कर गिरोह का एक सदस्य गिरफ्तार

वहीं, दक्षिण-पूर्वी जिले की स्पेशल स्टाफ टीम ने अंतरराष्ट्रीय ड्रग तस्कर गिरोह के एक सदस्य को गिरफ्तार किया है। आरोपित से पुलिस टीम ने 206 ग्राम हेरोइन बरामद किया है। पुलिस का दावा है कि बरामद किए गए पदार्थ की कीमत 15 लाख रुपये है। आरोपित की पहचान नाइजीरिया के रहने वाले किजितो इकुएज के रूप में हुई है। पुलिस उपायुक्त राजेंद्र प्रसाद मीणा ने बताया कि 23 सितंबर को पुलिस टीम को सूचना मिली कि एक अंतरराष्ट्रीय तस्कर नशीला पदार्थ बेचने जैतपुर इलाके में आने वाला है। सूचना पर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने जैतपुर के लोहिया पुल के पास से आरोपित को गिरफ्तार कर लिया। आरोपित से 206 ग्राम हेरोइन और स्कूटी बरामद की गई है। आरोपित ने बताया कि वह अफगानिस्तान से मादक पदार्थ लाकर दिल्ली में सप्लाई करता था।

Edited By: Prateek Kumar