नई दिल्ली [रजनीश पाण्डेय]। दक्षिण पश्चिम जिले की पुलिस ने दो कुख्यात झपटमारों को गिरफ्तार किया है। आरोपितों के कब्जे से पुलिस को चोरी के सात मोबाइल फोन बरामद हुए हैं। आरोपितों की पहचान बदरपुर निवासी राजू अरोड़ा (32) व विकास (22) के रूप में हुई है। पुलिस के अनुसार, दक्षिण पश्चिम जिले में चोरी के बढ़ते मामलों पर लगाम लगाने के लिए एक टीम का गठन किया गया।

टीम ने किया गिरफ्तार

टीम को शुक्रवार को स्थानीय सूत्रों से खबर मिली कि दो झपटमार इलाके मे किसी काम से आने वाले हैं। सूचना पर पुलिस ने इलाके में निगरानी बढ़ा दी। इसके बाद पुलिस ने योजनाबद्ध तरीके से दोनों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया। आरोपितों की तलाशी लेने पर उनके कब्जे से आरोपित राजू के कब्जे के चोरी की एक मोबाइल बरामद कर ली गई। इसके बाद आरोपितों की निशानदेही पर चोरी के पांच अन्य मोबाइल फोन भी बरामद कर लिए गए। पूछताछ के दौरान आरोपितों ने बताया कि वे नशे के आदी हैं और काफी समय से चोरी करके ही अपनी नशे की जरूरत को पूरा कर रहे हैं।

10 साल से फरार घोषित आरोपित गिरफ्तार

इधर, किशनगढ़ थाना पुलिस ने 10 साल से फरार एक आरोपित को गिरफ्तार किया है। आरोपित की पहचान अवधेश यादव(49) के रूप में हुई है। पुलिस के अनुसार, सोमवार को थाना पुलिस ने झारखंड मूल के अवधेश यादव को गिरफ्तार किया है। वह पिछले 10 सालों से पुलिस से बचकर इधर-उधर छिप रहा था। उसे 2011 में साकेत कोर्ट ने एक मामले में घोषित अपराधी करार दिया था। तब से वह पुलिस को चकमा देकर बचने की कोशिश कर रहा था। लेकिन सोमवार को वह किशनगढ़ थाना पुलिस के हत्थे चढ़ गया। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर संबंधित थाने को सूचना भी दे दी है। आरोपित को कोर्ट के सामने पेश किया जा चुका है। फिलहाल उसे अभी न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

Edited By: Prateek Kumar