नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। जैन नगर कालोनी में मंगलवार को 11 हजार वोल्ट की हाईटेंशन तार से करंट लगने से दो भाइयों की मौत हो गई। दोनों की पहचान गोविंद और देवेंद्र उर्फ बाबू के रूप में हुई है। ये पवन नगर, खजुराहो, मध्य प्रदेश के रहने वाले थे और राजमिस्त्री थे। पुलिस ने दोनों के शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।जानकारी के अनुसार, दोनों भाई जैन नगर कालोनी की गली नंबर छह में किराये के मकान में रहते थे। मंगलवार दोपहर को गो¨वद मकान की दूसरी मंजिल पर फोन पर बात करते हुए बालकनी में आ गए। इस दौरान बालकनी की मुंडेर पर हाथ रखकर वह बात करने लगे।

मुंडेर पर पानी गिरा होने से पास से गुजर रहे 11 हजार वोल्ट की हाईटेंशन तार ने अचानक से उन्हें अपनी ओर खींच लिया। गोविंद को करंट लगा देख उनके भाई देवेंद्र ने पहले बैग की सहायता से उसे करंट के तारों से दूर करने की कोशिश की और फिर कंबल की मदद से खींचने की कोशिश की, लेकिन वह कामयाब नहीं हो पाए। बड़े भाई को बचाते समय उनका हाथ गोविंद के पैर से लगा व उन्हें भी करंट लग गया। दोनों को करंट लगा देख वहां मौजूद गोविंद के साले ने उन्हें बचाने की कोशिश की तो उन्हें भी करंट लग गया। हालांकि करंट लगने के बाद वह पीछे की ओर गिर गए।

इसके बाद पुलिस ने मौके पर पहुंचकर तीनों को अस्पताल पहुंचाया, जहां डाक्टरों ने गोविंद व देवेंद्र को मृत घोषित कर दिया। फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।बिजली ठीक करने गए युवक की मौतएक अन्य मामले में अमन विहार इलाके में बिजली ठीक करने गए युवक की मौत हो गई। युवक की पहचान हरि एन्क्लेव के फैजान के रूप में हुई है। सोमवार को वह इलाके की एक फैक्ट्री में बिजली ठीक करने गए थे। इस दौरान उनको काम करते हुए करंट लग गया था। उन्हें पास के अस्पताल ले जाया गया, जहां डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

Edited By: Mangal Yadav