नई दिल्ली [ जेएनएन ] । आज भी प्रचंड गर्मी से राहत मिलने वाली नहीं है। मौसम विभाग का अनुमान है कि पश्चिमी विक्षोभ के कारण मंगलवार को गर्मी में थोड़ी नरमी जरूर आएगी। विभाग का दावा है कि मंगलवार को पारे में गिरवाट आएगी। मौसम विज्ञानियों के अनुसार गर्मी एवं तापमान में एकाएक हुई इस बढ़ोतरी की बड़ी वजह आसमान साफ होना और राजस्थान की ओर से पश्चिमी हवाओं का चलना रहा। अभी अगले 24 घंटे तक कमोबेश यही स्थिति बनी रहेगी। 

हालांकि, सोमवार रात से जम्मू कश्मीर की ओर एक पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने की संभावना है। इसके चलते मंगलवार से शनिवार तक राहत का दौर बना रह सकता है। इस दौरान आंधी भी चलेगी और बारिश भी होगी। इससे तापमान भी नीचे आएगा। जहां तक सोमवार का पूर्वानुमान है तो आसमान साफ रहेगा। अधिकतम एवं न्यूनतम तापमान क्रमश: 43 और 32 डिग्री रहने के आसार हैं।

यह भी पढ़ें: दिल्ली-NCR के आसमान में रहेगा बादलों का डेरा, जल्द हो सकती है बारिश

उधर, गर्मी ने रविवार को एक दशक का रिकार्ड तोड़ दिया। तेज धूप और लू के बीच अधिकतम तापमान 47.0 डिग्री सेल्सियस जा पहुंचा। दिन ही नहीं, सुबह भी खासी गर्मी महसूस की गई। आलम यह रहा कि छुटटी का दिन होने के बावजूद लोग घर में ज्यादा जबकि सड़कों पर कम नजर आए।

आंकडों पर नजर दौड़ाएं तो यह पिछले दस सालों के गर्मियों के सीजन का सबसे ज्यादा गरम दिन रहा है। इससे पहले सन 2007 में 10 जून के दिन अधिकतम तापमान 45.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था।

यह भी पढ़ें: दिल्ली-एनसीआर में हुई झमाझम बारिश, चिलचिलाती गर्मी से मिली राहत


पिछले छह वर्षों में 4 जून को कितना रहा तापमान
  सन     अधिकतम    न्यूनतम  
 2011   41 डिग्री से. 28 डिग्री से.
 2012   38 डिग्री से. 22 डिग्री से. 
 2013   38 डिग्री से. 20 डिग्री से.
 2014   39 डिग्री से. 25 डिग्री से.
 2015   39 डिग्री से. 22 डिग्री से.
 2016   40 डिग्री से. 28 डिग्री से.
 2017 47.0 डिग्री से. 30.8 डिग्री से.


Posted By: Ramesh Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस