नई दिल्ली, जेएनएन। Weather Update: एक ओर जहां दिल्ली-एनसीआर समेत पूरे उत्तर भारत में भीषण गर्मी और गर्म हवाओं के चलने का सिलसिला जारी है, वहीं दिल्ली से सटे हरियाणा के नारनौल में सुबह बादल रहे तो  दिन में तेज धूप रही, लेकिन शाम को तेज हवाओं के साथ बारिश भी हुई, जिससे लोगों को भीषण गर्मी से थोड़ी राहत मिली है। 

मिली जानकारी के मुताबिक, नारनौल में धरती को तपा देने के बाद शाम करीब 5 बजकर 50 मिनट पर तेज हवाओं के साथ जोरदार बरसात शुरू हुई। बरसात हालांकि क्षणिक रही, मगर इससे धरती भीग गई। तपिश में बरसात की इन बूंदों को जीवनदायिनी की तरह महसूस किया गया।

यहां पर मंगलवार को नारनौल का अधिकत्तम तापमान 44 डिग्री सेल्सियस आंका गया, वहीं न्यूनत्तम 31.5 डिग्री सेल्सियस रहा। बरसात से हवाओं में मामूली ठंडक भी घुल गई, जिससे लोगों काे कुछ राहत मिली। सोमवार की तुलना में मंगलवार को अधिकत्तम तापमान में 4.3 डिग्री की बड़ी गिरावट दर्ज की गई। अन्यथा जून मास के इन दस दिनों में पारा कभी भी 45 डिग्री से नीचे उतरने का नाम नहीं ले रहा था और लोग भीषण गर्मी से परेशान थे।

इससे पहले मौसम में बदलाव के चलते दिल्ली में कई जगहों पर हल्की बारिश हुई तो धूल भरी आंधी और 30 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा भी चली। इससे जहां लोगों को भीषण गर्मी से हल्की राहत मिली, वहीं बारिश से उमस में इजाफा भी हो सकता है। 

वहीं, पूर्वी दिल्ली के लोगों को काफी समय के बाद मंगलवार को भीषण गर्मी से कुछ राहत मिली है। आसमान में बादल छाए हुए हैं, जाफराबाद इलाके में हल्की बूंदा बांदी हुई है।

गौरतलब है कि दिल्ली-एनसीआर समेत पूरे उत्तर भारत में भीषण गर्मी का कहर जारी है। दिल्ली में तो गर्मी ने सोमवार को दस साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया। सफदरजंग में अधिकतम तापमान 45.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। 17 जून 1945 को सबसे ज्यादा तापमान 46.7 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया था। मौसम विभाग ने पहले ही 10 जून के लिए भीषण गर्मी को लेकर रेड अलर्ट जारी कर रखा था, लेकिन गर्मी के तेवर देखते हुए 11 जून के लिए ऑरेंज अलर्ट और 12 जून व 13 जून के लिए येलो अलर्ट जारी किया गया है।

दिल्ली-NCR की ताजा खबरों को पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: JP Yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप