नई दिल्ली [मनु त्यागी]। घर में अकेले हैं, खाना बनाने का आलस है या तबीयत नासाज है... तो जाहिर है सबसे पहले हेल्दी खिचड़ी ही याद आती है। और अब तो खुद भी बनाने की झंझट नहीं। घर बैठे बिठाए ऑर्डर करो और आपके लिए खिचड़ी के 16 अवतार सुस्वाद के साथ हाजिर हैं। सबसे खास बात है इसमें देश के विभिन्न राज्यों के स्वाद की विविधता का भी खयाल रखा गया है। हम बात कर रहे हैं खिचड़ी एक्सपेरिमेंट क्लाउड किचन की, जिसका स्वाद आप ऑनलाइन ऑर्डर करके भी ले सकते हैं। 

हर राज्य की खुशबू

अब तक विविध राज्यों के सिग्नेचर फूड...मसलन साउथ का डोसा-सांभर...गुजरात का फाफड़ा...महाराष्ट्र का वड़ा-पाव...वगैरहा...वगैरहा सुने होंगे, लेकिन खिचड़ी के ये 16 अवतार आपको देश के जायके साथ ही भाषा के विविध रूपों की तरह ही नजर आएंगे। आप यदि गुजराती स्वाद लेना चाहते हैं तो आपको मूंग दाल से बनी मसालेदार खिचड़ी में लौंग, दालचीनी, छोटी इलायची लहसून, प्याज हरी मिर्च, टमाटर आदि का स्वाद भी मिलेगा। इसमें हल्की सी मिठास का भी स्वाद मिलेगा।

नॉनवेज खिचड़ी भी कर सकते हैं ऑर्डर

वहीं, राजस्थानी और मराठी खिचड़ी का स्वाद भी कुछ इसी तरह का होता है। इसके अलावा यदि आपको दक्षिणी राज्यों की मसालेदार खिचड़ी का स्वाद लेना है तो उसमें आपको सांभर में इस्तेमाल होने वाले सारे खड़े मसाले तो मिलेंगे ही, उसके साथ खिचड़ी में सहजन के पीस भी मिलेंगे। जिससे खिचड़ी के स्वाद में सांभर जैसा फील मिलता है। इसके अलाव हेल्दी खिचड़ी में लंगरवाली, पालक पनीर, अचारी, मेथी, मुंबई पाव भाजी, बंगाली पंच फोरन खिचड़ी...जैसे विविध अवतारों में भी खाने को मिलेगी। इतना ही नहीं आप चाहें तो नॉनवेज खिचड़ी भी ऑर्डर कर सकते हैं।

स्वाद की मौलिकता

खिचड़ी एक्सपेरिमेंट के सारे फ्लेवर भी उपलब्ध हैं, इस पर ओला फूड के सीईओ प्रणय जीवराजका कहते हैं कि 'खिचड़ी एक्सपेरिमेंट का जन्म बाजार से ऑयली, मसालेदार खाने की अव्यवस्था से बचने और भोजन के अच्छे अनुभव के निर्माण के लिए किया गया है। इसमें हमने देश के राज्यों के विविध स्वादों का भी खयाल रखा है। हमारे देश में अलग-अलग राज्यों में कई तरह के मसालों का प्रयोग खाने में होता है, इसी के अनुकूल वही खड़े मसालों का टेस्ट इस खिचड़ी में भी मिलता है।

कई खिचड़ी के स्वादों में मसालों का प्रयोग
खिचड़ी के स्वाद में लगातार बदलाव पर कहते हैं कि अपने उपभोक्ताओं द्वारा मिली प्रतिक्रियाओं को ध्यान में रखते हुए कई खिचड़ी के स्वादों में मसालों का प्रयोग भी किया है। अपने प्रयासों को लगातार बढ़ाया है और इन्हीं प्रयासों की सहायता से उपभोक्ताओं के लिए सेहतमंद एवं अनुकूल विकल्पों के साथ उपस्थित हैं। 

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस