नई दिल्ली [राकेश कुमार सिंह]। Tablighi Jamaat Chief Maulana Saad: देश में कोरोना को लेकर बड़ा संकट खड़ा करने वाले तब्लीगी मरकज के प्रमुख मौलाना मुहम्मद साद व उसके छह सहयोगियों को क्राइम ब्रांच छह माह बाद भी गिरफ्तार नहीं कर पाई है। कुछ विदेशी जमातियों का कोर्ट में अभी ट्रायल चल रहा है, जोकि एक सप्ताह में खत्म हो जाएगा। इसके बाद क्राइम ब्रांच मौलाना साद की गिरफ्तारी के लिए कदम बढ़ा सकती है।

कोरोना वायरस फैलाने और अन्य नियमों के उल्लंघन के आरोप में गिरफ्तार किए गए मरकज में ठहरने वाले 36 देशों के 908 विदेशी नागरिकों के खिलाफ आरोप पत्र दायर किया गया था। इनमें से कई जमातियों को कोर्ट में ट्रायल पूरा होन पर जुर्माना भरने के बाद उनके देश भेज दिया गया है। सबसे अधिक करीब 425 नागरिक इंडोनेशिया के थे। अब 36 विदेशी नागरिक शेष बचे हैं, जिनके खिलाफ ट्रायल चल रहा है। एक सप्ताह में इनका भी ट्रायल खत्म हो जाएगा। ऐसे में सभी विदेशी जमातियों को उनके देश भेज देने के बाद क्राइम ब्रांच साद पर शिकंजा कसने की तैयारी कर रही है।

अभी सील है मरकज

28 मार्च को मुकदमा दर्ज होने के बाद से सभी मरकज छोड़कर फरार हैं। एक अप्रैल को निजामुद्दीन स्थित तब्लीगी मरकज को खाली कराने के बाद क्राइम ब्रांच ने उसे जांच के लिए सील कर दिया था, जो अब तक बंद पड़ा है। मरकज के एक हिस्से में साद का घर भी है जहां वह पत्नी व दोनों बेटे समेत परिवार के अन्य सदस्यों के साथ रहता था। बताया जा रहा है कि मरकज सील होने पर साद परिवार के साथ जाकिर नगर में रहता है।

कोरोना के कारण पुलिस ने पहले साद को गिरफ्तार करने में देरी की, लेकिन अब सारी गतिविधियां शुरू हो चुकी हैं। इसके बावजूद पुलिस उसे गिरफ्तार नहीं कर रही है।

मरकज खोलने पर सुनवाई 8 को

कुछ दिन पहले साद ने पत्नी के जरिये मरकज खोलने के लिए अर्जी दायर कराई थी। जिस पर साकेत स्थित मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट ने मरकज खोलने का आदेश जारी कर दिया था। पुलिस ने सीएमएम के आदेश के खिलाफ कोर्ट में अपील कर मरकज खोलने का यह कहते हुए विरोध जताया कि अभी क्राइम ब्रांच को वहां और भी जांच करनी है। इसके बाद कोर्ट ने अपने आदेश पर स्टे लगा दिया था। साद अपनी पत्नी खालिदा बेगम से मरकज को खोलने के लिए दोबारा कोर्ट में अर्जी दायर कराई है। जिस पर 8 अक्टूबर को सुनवाई होनी है। सूत्रों के मुताबिक, क्राइम ब्रांच फिर से मरकज खोलने का विरोध करेगी।

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021