नई दिल्ली [सोनू राणा]। रिठाला गांव की बंगाली कालोनी में कुख्यात शराब तस्कर को पकड़ने गए पुलिसकर्मियों पर ही बस्ती के लोगों ने हमला कर दिया। हमले में चार पुलिसकर्मियों को चोटें आई हैं और पुलिस के वाहनों के शीशे भी तोड़े गए हैं। इस संबंध में पुलिस ने मामला दर्ज कर देर रात तक 19 लोगों को गिरफ्तार किया है। यह घटना मंगलवार रात की है।

जुआ खेलने की मिली सूचना

जानकारी के अनुसार बुध विहार थाना पुलिस को धनतेरस की रात बंगाली बस्ती में जुआ खेलने और अवैध शराब की बिक्री होने की सूचना मिली थी। इस पर पुलिस ने छापेमारी की तो कुख्यात शराब तस्कर अल्ला रक्खा को शराब बेचते पकड़ लिया गया। उससे अवैध शराब के 86 क्वार्टर और बीयर की 35 बोतलें बरामद हुईं। जब पुलिस आरोपित को गाड़ी में बैठाने के लिए ले जाने लगी तो उसने बांग्ला भाषा में लोगों को पुलिस का विरोध करने को कहा। जब तक पुलिसकर्मी उसकी बातों को समझ पाते, चारों ओर से ईंट और पत्थरों से हमला शुरू हो गया।

हमले में चार पुलिसकर्मी हुए घायल

आरोप है कि बस्ती के बशरुल और आयशा ने पुलिसकर्मियों पर हमले की शुरुआत की। हमले में हेड कांस्टेबल समेत चार पुलिसकर्मी घायल हो गए और पुलिस की गाड़ियां भी क्षतिग्रस्त हो गईं। हालात बिगड़ते देख पुलिस को अतिरिक्त पुलिस बल बुलाना पड़ा। इसके बाद भारी संख्या में पहुंचे पुलिसकर्मियों ने भीड़ को शांत किया और हमला करने के आरोप में 19 लोगों को गिरफ्तार कर लिया। घायल पुलिसकर्मियों को अस्पताल को प्राथमिक उपचार दिलाया गया।

पुलिस पर महिलाओं से मारपीट का लगाया आरोप

बस्ती की महिलाओं ने पुलिस पर आरोप लगाया है कि मंगलवार देर रात को पुलिसकर्मी उनकी झुग्गियों में घुसकर उनके घरों के पुरुषों को पकड़कर ले जाने लगे। उन्होंने विरोध किया तो उनसे मारपीट और गाली-गलौज की गई। इस दौरान सुल्ताना, लोखी दीदी, मुन्नी, लालबानू समेत कई महिलाएं घायल हो गईं। मुन्नी समेत कई महिलाओं ने अपने शरीर पर चोट दिखाते हुए आरोप लगाया कि पुलिसकर्मियों ने लाठी से उन पर वार किया। फिलहाल महिला आयोग की टीम मामले की जांच में जुट गई है।

रोहिणी जिला पुलिस उपायुक्त, प्रणव तायल ने बताया कि मंगलवार की रात बंगाली बस्ती में सट्टा खिलाने और अवैध शराब बेचे जाने की शिकायत मिली थी। टीम बस्ती में पहुंची और आरोपित अल्ला रक्खा को पकड़ा। पुलिस जैसे ही अल्ला रक्खा को गाड़ी में बैठाने के लिए लेकर जाने लगी तो उसने हल्ला मचा दिया। इसके बाद पुलिस टीम पर चारों ओर से पथराव होने लगा जिसमें चार पुलिसकर्मी घायल हो गए और चार गाड़ियां क्षतिग्रस्त हो गईं। मामले में कार्रवाई करते हुए 19 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। वहीं, महिला से मारपीट का कोई मामला सामने नहीं आया है। अगर ऐसी कोई शिकायत सामने आती है तो कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Prateek Kumar