नई दिल्ली [धनंजय मिश्रा]। बेटी की शादी के लिए एक लाख रुपये उधार वापस नहीं लौटाने पर नई दिल्ली रेलवे स्टेशन परिसर के पास बनी पार्किंग में सो रहे व्यक्ति पर ज्वलनशील पदार्थ डालकर हत्या की मंशा से आग लगा दी गई। वारदात 21-22 सितंबर की देर रात की है। आसपास मौजदू लोग शोर सुनकर वहां पहुंचे और पीड़ित जोगराज को लोक नायक अस्पताल में भर्ती कराया।

जहां उनका उपचार चल रहा है। मामले में प्राथमिकी दर्ज कर पुलिस मामले की जांच कर रही है। पुलिस अधिकारी का कहना है कि 80 प्रतिशत तक जलने के कारण जोगराज की हालत गंभीर बनी हुई है। वहीं, मुख्य आरोपित राजीव को गिरफ्तार कर लिया गया है।

जानकारी के अनुसार, मूल रूप से उत्तर प्रदेश के एटा के रहने वाले जोगराज नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के पास पार्किंग में मोची का काम करते हैं। मई माह में उन्होंने अपनी बेटी की शादी की थी। इसके लिए उन्होंने राजीव नाम के शख्स से एक लाख रुपये उधार लिए थे। उन्होंने कहा था कि वह रकम थोड़ा-थोड़ा करके देंगे। हाल के दिनों में राजीव अपने पैसे लेने को लेकर जोगराज पर काफी दबाव बना रहा था। इसके लिए वह गाली गलौज भी करता था।

21-22 सितंबर की रात जोगराग स्टेशन परिसर के पास बनी पार्किंग में सो रहे थे। देर रात करीब ढाई बजे राजीव दो लड़कों के साथ आया। दोनों लड़कों ने जोगराज पर ज्वलनशील पदार्थ डाला। इस दौरान उनकी आंख खुल गई। उन्होंने देखा की राजीव ने माचिस से आग लगा दी है।

इसके बाद तीनों घटनास्थल से फरार हो गए। आसपास के लोगों ने किसी तरह आग पर काबू पा जोगराज को लोक नायक अस्पताल लेकर गए।

अस्पताल से पुलिस को मिली सूचना

मामले की सूचना पुलिस को अस्पताल से दी गई। एक टीम अस्पताल पहुंची तो दूसरी घटनास्थल पर। अस्पताल में पुलिस ने घायल का बयान लिया। पीड़ित 80 प्रतिशत तक जल चुके हैं। ऐसे में उनकी हालत गंभीर बनी हुई है।

पुलिस सुरक्षा पर उठ रहा सवाल

नई दिल्ली रेलवे स्टेशन व उसके पास पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर सवाल खड़े हो रहे हैं। लोगों का कहना है कि नई दिल्ली रेलवे स्टेशन व उसके आसपास पुलिस गश्त ठीक से करती तो शायद इस घटना को रोका जा सकता था।

Edited By: Pradeep Kumar Chauhan