नई दिल्ली [जेएनएन]। दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा ने फ्लैट देने के नाम पर लोगों से करोड़ों की ठगी मामले में शुभकामना बिल्डटेक प्राइवेट लिमिटेड के प्रबंध निदेशक (एमडी) दिवाकर शर्मा को गिरफ्तार किया है। कंपनी ने नोएडा स्थित आवासीय परियोजना में फ्लैट देने का वादा कर लोगों से करोड़ों रुपये लिए, लेकिन लोगों को फ्लैट नहीं मिले।

फ्लैट देने का किया था वादा 
अपराध शाखा के पुलिस उपायुक्त ने बताया कि टेक्नोहोम फ्लैट बायर्स वेलफेयर एसोसिएशन के 49 सदस्यों ने एक बिल्डिंग निर्माण करने वाली कंपनी के खिलाफ ठगी की शिकायत दर्ज कराई थी। पीड़ितों के मुताबिक शुभकामना एडवर्ट टेक्नोहोम नाम की कंपनी ने उन्हें आवासीय परियोजना के तहत उत्तर प्रदेश के नोएडा सेक्टर-137 में फ्लैट देने का वादा किया था।

बिल्डर ने निर्माण बंद कर दिया
कंपनी के अधिकारियों ने उन्हें आश्वासन दिया था कि एक फरवरी 2011 से फ्लैट का निर्माण शुरू हो जाएगा। वहीं, 36 महीने के अंदर खरीदारों को फ्लैट सौंप दिए जाएंगे। इसके लिए लोगों ने फ्लैट की कुल कीमत का 90 फीसद भुगतान भी कर दिया था, लेकिन इसी बीच बिल्डर ने निर्माण बंद कर दिया।

Image result for Shubhkamna Buildtech md arrested

दर्ज किया गया मुकदमा 
पता चला है कि बगैर लीज डीड के ही कंपनी ने फ्लैटों की बुकिंग शुरू कर थी। यही नहीं कंपनी के अधिकारी लोगों के करोड़ों रुपये का इस्तेमाल निजी धन के रूप में कर रहे थे। शिकायत मिलने पर पुलिस ने अप्रैल 2017 में मुकदमा दर्ज कर लिया था। डीसीपी एमआइ हैदर की टीम मामले की जांच कर रही थी। तफ्तीश में पता चला कि लोगों के करोड़ों रुपये का बंटाधार किया गया है। जिसके बाद अपराध शाखा की टीम ने एमडी दिवाकर शर्मा को गिरफ्तार कर लिया।