नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। दक्षिण पूर्वी जिले के डीसीपी चिन्मय बिश्वाल को हटाने के बाद उनकी जगह राजेन्द्र प्रसाद मीणा को डीसीपी बना दिया गया है। ये नियुक्ति चुनाव आयोग के निर्देश पर हुई है। मीणा 2010 बैच के आईपीएस हैं और वह अभी नॉर्थ ईस्ट में एडिशनल डीसीपी तैनात थे। जानकारी के मुताबिक उन्हें तुरंत पदभार ग्रहण करने को कहा गया है।

इससे पहले चुनाव आयोग ने दक्षिण-पूर्वी जिला के डीसीपी चिन्मय बिश्वाल को रविवार रात तत्काल प्रभाव से हटा दिया था। 2008 बैच के आइपीएस बिश्वाल को गृह मंत्रालय में रिपोर्ट करने को कहा गया है। उनकी जगह जिले के एडिशनल डीसीपी कुमार ज्ञानेश को पदभार सौंपा गया था। आयोग की इस कार्रवाई के पीछे शाहीन बाग की घटनाओं को माना जा रहा है।

रविवार सुबह चुनाव पर्यवेक्षक रहे राजस्थान कैडर के आइपीएस भंवर लाल मीणा ने शाहीन बाग का दौरा किया था। माना जा रहा है कि उनकी रिपोर्ट के आधार पर ही यह कार्रवाई की गई। चुनाव आयोग ने गृह मंत्रलय व पुलिस उपायुक्त को जिले के नियमित डीसीपी बनाए जाने के लिए तीन उपयुक्त नामों का एक पैनल भी आयोग को भेजने का निर्देश जारी किया है। दिल्ली के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है जब चुनाव के दौरान किसी डीसीपी को चुनाव आयोग ने तत्काल प्रभाव से डीसीपी को पद से हटा दिया हो।

 

Posted By: Mangal Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस