नई दिल्ली, जेएनएन। आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सदस्य संजय सिंह ने सुप्रीम कोर्ट से अपील की है कि राफेल से जुड़ा मुद्दा देश की सुरक्षा से जुड़ा संवेदनशील मुद्दा है। यह देश की सवा सौ करोड़ लोगों की सुरक्षा से जुड़ा हुआ मुद्दा है। इसलिए इस दिशा में दायर की गई उनकी याचिका पर पुनर्विचार करें। उन्होंने इस पर दुख भी जताया कि सुप्रीम कोर्ट ने इस पुनर्विचार याचिका को सुनने से मौखिक तौर पर इन्कार कर दिया।

बृहस्पतिवार को पार्टी कार्यालय में पत्रकार वार्ता के दौरान उन्होंने कहा, सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश ने यह दलील दी कि मैंने सुप्रीम कोर्ट के संबंध में कुछ गलत टिप्पणियां कीं, जिससे सुप्रीम कोर्ट की अवमानना हुई है। इसलिए मुख्य न्यायाधीश मेरा केस नहीं सुनेंगे।

मैं बड़े ही सम्मान के साथ कोर्ट से पूछना चाहता हूं कि मुझे बताया जाए कि मैंने कोर्ट के खिलाफ कौन सी गलत टिप्पणी की है। अगर मैंने ऐसी कोई बात कही है तो मेरे खिलाफ कानूनी कार्यवाही की जाए मुझे कोर्ट में बुलाया जाए और मेरा भी पक्ष सुना जाए।

मैंने सुप्रीम कोर्ट के संबंध में कोई भी टिप्पणी की है तो इसके लिए मुझे सजा दे, लेकिन मैं बड़े ही सम्मान के साथ पूछना चाहता हूं कि कानून की किस किताब में लिखा है कि इस बात का हवाला देकर कोर्ट देश में हुए 36 हजार करोड़ के राफेल घोटाले के मसले पर मेरा पक्ष नहीं सुनना चाहते।

संजय सिंह ने कहा कि यह भी आश्चर्यचकित करने वाली बात है कि सरकार के वकील और सॉलिसिटर जनरल ने कल सुप्रीम कोर्ट में कहा कि राफेल घोटाले से जुड़ी हुई फाइल चोरी हो गई है। 36 हजार करोड़ के घोटाले से जुड़ी हुई फाइल चोरी हो जाती है और कोर्ट के पूछने पर कि अब तक क्या कार्यवाही की गई, जवाब आता है कोई कार्यवाही नहीं हुई है। यह इस बात पर मुहर लगाता है कि राफेल की खरीद में घोटाला हुआ है।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप