नई दिल्ली, एएनआइ। दिल्ली में क्वारंटीन किए गए परिवारों से कूड़ा इकट्ठा करने के लिए नगर निगम ने एक अलग टीम तैयार की है। कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए सफाई कर्मियों ने पर्सनल प्रोटेक्शन इक्विमेंट (PPE)दी गई है। कूड़ा इकट्ठा करने वाले कर्मचारी पीपीई (PPE) पहनकर क्वारंटीन किए गए परिवारों के घर से कूड़ा उठा रहे हैं।

उत्तरी दिल्ली नगर निगम और पूर्वी दिल्ली नगर निगम ने क्वारंटीन किए गए परिवारों से कूड़ा इकट्ठा करने के टीम बनाकर काम शुरू भी कर दिया है। गुरुवार को पहाड़गंज में भी सफाई कर्मियों ने पीपीई पहनकर कूड़ा उठाया।

वहीं दिल्ली के द्वारका सेक्टर -11 में शाहजहानाबाद अपार्टमेंट्स को सेनीटाइज किया जा रहा है। दिल्ली सरकार ने शाहजहानाबाद अपार्टमेंट को प्रतिबंधित (containment) जोन घोषित किया है।

अतिरिक्त डीसीपी द्वारका आरपी मीणा ने बताया कि यहां दो हॉटस्पॉट हैं - एक है शाहजहानाबाद अपार्टमेंट और दूसरा है दीनपुर गांव। दोनों क्षेत्रों को सील कर दिया गया है और आवश्यक सेवाओं को छोड़कर क्षेत्र में किसी को आने-जाने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

तीन हजार से ज्यादा लोगों की रिपोर्ट जल्द

स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने बुधवार को कहा कि राजधानी में कोरोना वायरस के अब तक कुल 576 पॉजिटिव मामले सामने आए हैं। इनमें से 35 मरीज आइसीयू में भर्ती हैं और 8 लोग वेंटिलेटर पर हैं। जैन ने बताया कि मंगलवार को निजामुद्दीन मरकज की तब्लीगी जमात से जुड़े लोगों के मोबाइल नंबर पुलिस को दिए गए हैं। इससे हमें मदद मिलेगी कि उनके संपर्क में कौन-कौन लोग आए थे। उन्होंने कहा कि जमात से जुड़े तीन हजारा लोगों की जांच रिपोर्ट एक-दो दिन में आ जाएगी।

कोरोना वायरस को जड़ से खत्म करने के लिए दिल्ली सरकार ने तब्लीगी जमात से जुड़े 2 हजार लोगों के फोन नंबर दिल्ली पुलिस को दिए हैं। हाल ही में इन सभी लोगों को निजामुद्दीन से निकाला गया था। दिल्ली सरकार ने दिल्ली पुलिस से उन स्थानों को ट्रैक करने के लिए कहा है जहां ये लोग गए थे ।

 

Posted By: Mangal Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस