गुरुग्राम, जेएनएन। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पूर्व अखिल भारतीय सेवा प्रमुख और वरिष्ठ प्रचारक प्रेमचंद गोयल ने उम्मीद जताई है कि राम मंदिर निर्माण पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला हिंदुओं के हक में होगा। दैनिक जागरण से बातचीत में उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव से पहले राम मंदिर निर्माण की घोषणा संत खुद करेंगे। मंदिर निर्माण में हो रही देरी के सवाल पर उन्होंने कहा कि, पूरी उम्मीद है कि अदालत का फैसला मंदिर निर्माण के पक्ष में होगा। ये बातें गोयल ने गुरुग्राम में भारत विकास परिषद की महाराणा प्रताप शाखा द्वारा संचालित विवेकानंद आरोग्य केंद्र में पहुंचने के दौरान कही।

इससे पहले इंद्रेश कुमार ने दिया था ये बयान

इससे पहले शनिवार को गुरुग्राम में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के नेता इंद्रेश कुमार ने दैनिक जागरण से बातचीत में कहा था कि राम मंदिर निर्माण को लेकर केंद्र सरकार संसद में चर्चा कराए। उन्होंने कहा था कि अयोध्या में राम मंदिर कैसे बनेगा, इस मुद्दे पर सभी पार्टियों के नेता अपने-अपने विचार रखें। जो मंदिर निर्माण के विरोधी हैं, वे क्यों हैं, इस बारे में पूरे तथ्य के साथ अपनी बात रखें।

इंद्रेश कुमार ने कहा था कि एक बार खोदाई कराई गई थी। उस दौरान मस्जिद होने का प्रमाण नहीं मिला, जबकि मंदिर के काफी प्रमाण मिल चुके हैं। देश के एक भी मुसलमान ने कभी वहां पर नमाज अता नहीं की।

Posted By: Mangal Yadav