नई दिल्ली [वीके शुक्ला]। बगैर हाई सिक्युरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट (एचएसआरपी) और रंगीन स्टीकर वाले वाहनों के खिलाफ बृहस्पतिवार से फिर अभियान शुरू हो गया है। ऐसे वाहनों के खिलाफ दिल्ली परिवहन विभाग ने चालान काटने का फैसला लिया है। यह चालान 5500 रुपये का होगा, जो एचएसआरपी और रंगीन स्टीकर दोनों मामले में लागू होगा यानी दोनों नहीं होने पर 11 हजार का चालान कटेगा। कार्रवाई दिल्ली के 11 जिलों में होगी। प्रत्येक जिले में चार से 5 टीमें काम करेंगी। सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर परिवहन विभाग ने गाड़ियों पर एचएसआरपी और रंगीन स्टीकर लगाना अनिवार्य कर रखा है। इसे सुनिश्चित करने के लिए बृहस्पतिवार से फिर अभियान चलाया जाएगा। इससे पहले 15 दिसंबर को अभियान शुरू किया गया था। उस समय करीब दो हजार चालान काटे गए थे, मगर आठ दिन के बाद अभियान बंद कर दिया गया था। उस समय दिल्ली भर में बहुत कम टीमें लगाई गई थीं, मगर अब पूरी तैयारी के साथ अभियान शुरू होने जा रहा है। यह सिर्फ चार पहिया वाहनों के लिए अभियान होगा। दोपहिया को इसमें शामिल नहीं किया है। रंगीन स्टीकर दो पहिया वाहन के लिए नहीं है। यह केवल चार पहिया वाहन के लिए है। दिल्ली या दूसरे राज्यों के जिन चार पहिया वाहनों की एचएसआरपी और रंगीन स्टीकर लगवाने के लिए आवेदन किया जा चुका है। उनका चालान नहीं होगा। उन्हें आवेदन वाली अपनी स्लिप दिखानी होगी। हल्के नीले रंग का स्टीकर पेट्रोल तथा सीएनजी वाहनों के लिए है, जबकि डीजल गाड़ियों पर नारंगी रंग का स्टीकर लगाया जाना है।

दिल्ली में 2012 से एचएसआरपी लगाई जा रही है, मगर रंगीन स्टीकर 2 अक्टूबर 2018 से सभी नई गाडि़यां में शुरू किया गया है। इस हिसाब से यह सभी कारों में लगाया जाना है, जबकि एचएसआरपी 2012 से पहले की कारों व दो पहिया वाहनों में लगाई जानी है।

ऑनलाइन करें HSRP की बुकिंग

एचएसआरपी व रंगीन स्टीकर की ऑनलाइन बुकिंग कराई जा सकती है। एचएसआरपी की होम डिलीवरी और डीलर से संबंधित सामान्य जांच और शिकायतों के लिए अलग हेल्पलाइन नंबर लांच किए गए हैं। वर्तमान में काल सेंटर में 150 लाइनें हैं। कॉल सेंटर सोमवार से शनिवार तक सुबह 9 बजे से शाम 6 बजे के बीच चलता है।

  • हेल्पलाइन नंबर बुकिंग से संबंधित सामान्य जानकारी के लिए : 18001200201
  • डीलर से संबंधित शिकायत के लिए - 8929722201
  • होम डिलीवरी से संबंधित शिकायत के लिए - 8929722202 

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप