जागरण संवाददाता, नई दिल्ली। जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) को स्थापित हुए 50 साल हो चुके हैं। पहली बार इस गणतंत्र दिवस पर विश्वविद्यालय के प्रशासनिक भवन पर गणतंत्र दिवस परेड का आयोजन होगा, जिसमें जेएनयू की एनसीसी से जुड़ी 15 छात्राएं हिस्सा लेंगी।

कुलपति प्रो. एम जगदीश कुमार ने बताया कि यह संस्थान के लिए बहुत ही खुशी की बात है कि इस 26 जनवरी के दिन यह एनसीसी से जुड़ी छात्राएं गणतंत्र दिवस की परेड में हिस्सा लेंगी। जेएनयू में जुलाई 2019 में एनसीसी ग‌र्ल्स यूनिट का गठन हुआ था। इससे अभी कुल 25 छात्राएं जुड़ चुकी हैं। विश्वविद्यालय के ध्वजारोहण समारोह में एनसीसी की 15 छात्राएं परेड में हिस्सा लेंगी।

11 जनवरी से छात्राओं की हो रही है रिहर्सल

जेएनयू के एसोसिएट डीन असिस्टेंट प्रो. बुधा सिंह ने कहा कि जेएनयू के 50 साल के इतिहास में यह पहली बार हो रहा है कि गणतंत्र दिवस के दिन परेड का आयोजन हो रहा है। इसमें 3 दिल्ली ग‌र्ल्स बटालियन एनसीसी की छात्राएं हिस्सा ले रही हैं। इन्हें एनसीसी कमांडिंग अधिकारी कर्नल पीयूष शर्मा के नेतृत्व में प्रशिक्षित किया गया है।

जुलाई 2019 से एनसीसी ग‌र्ल्स यूनिट के गठन के बाद से ही यह इसके लिए तैयारियां कर रही थीं। छात्राओं की गणतंत्र दिवस परेड को लेकर 11 जनवरी से रिहर्सल शुरू हो गई थी। यह छात्राएं कुलपति को परेड में गार्ड ऑफ ऑनर देंगी।

एक तरफ आंदोलन तो दूसरी तरफ छात्राएं कर रही थीं तैयारी

डॉ बुधा सिंह ने कहा कि जेएनयू में एक तरफ छात्र आंदोलन कर रहे थे तो दूसरी तरफ इन छात्रों के जज्बा भी दिखाई दे रहा था। छात्राएं लगातार तैयारियां कर रही थीं। जेएनयू को पिछले वर्ष स्थापित हुए 50 वर्ष हो चुके हैं, पिछले वर्ष से जेएनयू अपना स्वर्ण जयंती मना रहा है। इसी के उपलक्ष्य पर यह खुशी की बात है कि गणतंत्र दिवस परेड का भी आयोजन हो रहा है। 

कक्षाओं में लौट रहे हैं छात्र 

कुलपति प्रो एम.जगदीश कुमार ने कहा कि अब छात्र अपनी-अपनी कक्षाओं पर लौट रहे हैं। वह अपनी शोध की लैब में भी काम करने पहुंच रहे हैं। संस्थान की अकादमिक गतिविधि में छात्र-छात्राएं हिस्सा ले रहे हैं। यह अच्छी बात है। 

Posted By: Dhyanendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस