नई दिल्ली [रीतिका मिश्रा]। Delhi School Reopen / Closed News: राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में मामूली कमी आई है। दिल्ली में 24 घंटे के दौरान सोमवार को कोरोना के 12,000 से कुछ अधिक मामले आए हैं। इस बीच दिल्ली में कोरोना के चलते स्कूल-कालेज और कोचिंग सेंटर के खुलने के आसार कम ही हैं। इस बाबत दिल्ली शिक्षा निदेशालय ने स्कूलों को आगे भी बंद रखने का निर्णय लिया है, हालांकि इस बाबत कोई नया आदेश नहीं है।  निदेशालय के सूत्रों के मुताबिक, अगले आदेश तक दिल्ली में सभी सरकारी, गैर सरकार, दिल्ली नगर निगम और दिल्ली छावनी बोर्ड से संबंधित स्कूल और कोचिंग सेंटर बंद रहेंगे। कहा जा रहा है कि दिल्ली में कोरोना के इतने ज्यादा मामले आ गए हैं कि फिलहाल स्कूलों को खोलना संभव नहीं है।

शीतकालीन अवकाश समाप्त पर जारी रहेगी स्कूलों में छुट्टी

सरकारी और निजी स्कूलों का सोमवार से शीतकालीन अवकाश समाप्त हो गया है। ऐसे में स्कूल खुलने की जानकारी को लेकर अभिभावकों और छात्रों ने स्कूलों में फोन करना शुरू कर दिया है। प्रधानाचार्यों के मुताबिक कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते शिक्षा निदेशालय ने अगले आदेश तक स्कूलों को बंद करने का आदेश जारी किया था। ऐसे में जब तक कोई आदेश जारी नहीं होता है, तब तक स्कूल बंद रहेंगे। वहीं, आनलाइन कक्षाएं जारी रहेंगी।

सरकारी स्कूल के एक प्रधानाचार्य के मुताबिक सरकार द्वारा अगले आदेश तक स्कूल बंद रखने के आदेश हैं। इसके बाद भी कई छात्र असमंजस में हैं और सोमवार को सुबह से ही फोन कर जानकारी ली। हालांकि, छात्रों को स्पष्ट किया गया कि फिलहाल स्कूल नहीं खोले जा रहे हैं। वहीं, कक्षाओं को लेकर भी बताया गया कि तय टाइम-टेबल के आधार पर आनलाइन माध्यम से कक्षाएं लगेंगी।

चलती रहेंगी आनलाइन कक्षाएं

दिल्ली में कोरोना की बढ़ती समस्या के मद्देनजर दिल्ली सरकार ने फिलहाल सभी स्कूलों को बंद रखने का फैसला बरकरार ही रखा है। दिल्ली शिक्षा विभाग ने आदेश जारी कर अगले आदेश तक स्कूलों को बंद रखा है, लेकिन इस दौरान आनलाइन क्लास होती रहेंगीं। सीबीएसई ने फिलहाल 10वीं और 12वीं के लिए कोई नया सर्कुलर भी जारी नहीं किया है।

आनलाइन क्लास जारी है, बोर्ड के छात्रों को दे रहे प्राथमिकता


वहीं, वीना मिश्रा (प्रधानाचार्या, नेशनल विक्टर पब्लिक स्कूल, दिल्ली) का कहना है कि आइपी एक्सटेंशन स्थित नेशनल विक्टर पब्लिक स्कूल की प्रधानाचार्या वीना मिश्रा ने बताया कि सभी छात्रों की कक्षाएं आनलाइन माध्यम से संचालित की जा रही है। फिलहाल 100 प्रतिशत छात्रों के टीकाकरण होने का इंतजार है। जब भी स्कूलों को खोलने का आदेश जारी होगा, सबसे पहले 10वीं और 12वीं के छात्रों को स्कूल बुलाकर प्रायोगिक परीक्षाओं की तैयारी कराई जाएगी। 

बता दें कि कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते  पिछले महीने से ही दिल्ली में येलो अलर्ट घोषित किया जा चुका है और फिलहाल दिल्ली में शनिवार और रविवार को वीकेंड कर्फ्यू भी लगाया जा रहा है। दिसंबर के अंतिम सप्ताह से ही दिल्ली शिक्षा निदेशालय के आदेश पर 12वीं तक स्कूल बंद हैं। इसके पहले 15 जनवरी तक के लिए स्कूलों को सर्दियों की छुट्टी देते हुए बंद रखा गया था, लेकिन फिलहाल स्कूल बंद ही रहेंगे।

यूपी में 23 जनवरी बंद हैं स्कूल

दिल्ली से सटे उत्तर प्रदेश के नोएडा, ग्रेटर नोएडा, साहिबाबाद, लोनी, गाजियाबाद, हापुड़ आदेश शहरों में स्कूलों को 23 जनवरी तक बंद रखने की घोषणा की गई है। पूर्व ने सर्दियों की छुट्टियों के चलते 31 दिसंबर से 16 जनवरी तक स्कूलों को बंद रखने का ऐलान किया था, जो अब 23 जनवरी तक जारी रहेगी।

यह भी पढ़ेंः यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के खिलाफ चुनाव लड़ सकते हैं भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर, दिया संकेत

हरियाणा में 26 जनवरी तक बंद रहेंगे स्कूल

दिल्ली, यूपी की तरह हरियाणा में भी फिलहाल स्कूल बंद हैं। कोरोना के चलते हरियाणा में आगामी 26 जनवरी तक स्कूल बंद रहेंगे। हालात को देखते हुए राज्य सरकार गुरुग्राम, फरीदाबाद, सोनीपत, पलवल आदि शहरों में स्कूलों को खोलना का निर्णय लिया जाएगा।

दिल्ली-एनसीआर में ठंड और बारिश को लेकर पढ़िये मौसम विभाग का ताजा पूर्वानुमान

Edited By: Jp Yadav