नई दिल्ली [स्वदेश कुमार]। 5 murders over 7 years: दिल्ली के भजनपुरा इलाके में दंपती और उनके तीन बच्चों की हत्या करने वाले प्रभुनाथ चौधरी ने सात घंटे तक दरिंदगी का खेल खेला। जांच से जुड़े पुलिस अधिकारियों ने बताया कि तीन फरवरी को लेनदेन के विवाद के संबंध में बातचीत के लिए प्रभुनाथ ने शंभु को लक्ष्मीनगर बुलाया था। इसके बाद वह खुद भजनपुरा पहुंच गया। दोपहर करीब 3:30 बजे शंभु घर से निकले। करीब 15 मिनट बाद प्रभुनाथ उनके घर में दाखिल हो गया। उस समय बेटी ट्यूशन और दोनों बेटे स्कूल में थे।

प्रभुनाथ को पसंद नहीं करती थी उसकी भाभी

प्रभुनाथ के मुताबिक उसकी भाभी उसे पसंद नहीं करती थी। वह घर में दाखिल हुआ तो भाभी पैसों की बात को लेकर उस पर ताने मारने लगीं तो उसने गुस्से में उनका गला दबा दिया, जिससे वह बेहोश हो गईं। प्रभुनाथ को डर हुआ कि अब भाभी उसकी शिकायत शंभु से करेगी और बात परिवार में पहुंच जाएगी। इस वजह से उसने लोहे की रॉड से उनके सिर पर हमला कर दिया। इससे उनकी मौत हो गई। इसके बाद उसने शव को बिस्तर से उठाकर जमीन पर मुंह के बल लिटा दिया।

अंधेरे में बैठकर किया अगले शिकार का इंतजार

प्रभुनाथ का कहना है कि थोड़ी देर के लिए वह परेशान हो गया। उसे कुछ समझ नहीं आ रहा था कि क्या करे। उसने पहले घर की बिजली बंद कर दी। अंधेरे में बैठ गया। करीब 5:00 बजे शंभू की बेटी कोमल ट्यूशन पढ़कर लौटी। कुंडी खटखटाई तो प्रभुनाथ ने दरवाजा खोला। कोमल ने पूछा कि अंधेरा क्यों है तो प्रभुनाथ ने कहा कि उसकी परीक्षा लेनी है कि वह अंधेरे में चल पाती है कि नहीं। उसने कोमल की आंख पर कपड़े की पट्टी बांध दी। इसके बाद जैसे ही वह दो-चार कदम चली, आरोपित ने पीछे से उसी रॉड से सिर पर वार कर दिया। इससे कोमल की मौत हो गई। आरोपित ने बरामदे से शव को उठाकर दूसरे कमरे में मुंह के बल लिटा दिया। इसके बाद उसके ऊपर रजाई डाल दी।

इसके बाद करीब 5:45 बजे शंभु का बड़ा बेटा शिवम स्कूल से लौटा। प्रभु ने उसके साथ भी वही किया। इसके बाद छोटा बेटा सचिन 6:45 बजे पहुंचा तो आरोपित ने उसकी भी हत्या कर दी गई। वारदात के बाद आरोपित ने शंभु को फोन किया। शाम करीब 7:15 बजे घर के दरवाजे पर ताला लगाकर बाहर निकल गया। मोटरसाइकिल से लक्ष्मीनगर पहुंचा। यहां से शंभु को अपने साथ लेकर गामड़ी गांव पहुंचा। वहां शंभु को उसने शराब पिलाई और खुद बीयर पी। देर रात 11:00 बजे वह शंभू को नशे की हालत में लेकर घर पहुंचा और सिर पर रोड से हमलाकर उन्हें भी मार दिया। रात 11:30 बजे वह बाहर से ताला लगाकर फरार हो गया।

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस