गुरुग्राम, जेएनएन। छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री व भाजपा के वरिष्ठ नेता रमन सिंह को मेदांता अस्पताल से बुधवार दोपहर एक बजे डिस्चार्ज कर दिया गया। पिछले दो दिनों से रमन सिंह दिल्ली में ही थे। उन्हें सीने और पेट में दर्द की वजह से गुरुग्राम के मेदांता में देर रात 11 बजे भर्ती करवाया गया था। जहां डॉक्टरों ने उन्हें भर्ती करने की सलाह दी थी। रमन सिंह को गैस्ट्रोएंटरोलॉजी विशेषज्ञ डॉ. राजेश पुरी की देख-रेख में भर्ती किया गया था।

जानकारी के अनुसार, रमन सिंह को बेचैनी और कब्ज की भी शिकायत थी। परेशानी की वजह जानने के लिए
कोलोनोस्कोपी की गई। यह टेस्ट आंत या गुदा में परेशानी होने पर आंतरिक स्थिति जानने के लिए किया जाता है। बुधवार को उन्हें राहत मिलने पर डॉक्टरों ने रमन सिंह को अस्पताल से छुट्टी की सलाह दी। 

बता दें कि रमन सिंह पिछले दो दिन से दिल्ली में ही थे। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह मुलाकात की थी। छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह प्रदेश वर्तमान समय में भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष हैं। वे सात दिसंबर 2003 से 16 दिसंबर 2018 तक छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रहे। वे लगातार 15 साल तक प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे।

इससे पहले मंगलवार को समाजवादी पार्टी के नेता और राज्यसभा सदस्य बेनी प्रसाद वर्मा की तबीयत खराब हो गई थी। उन्होंने दिल्ली से सटे गाजियाबाद के वैशाली स्थित मैक्स अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मैक्स अस्पताल में उनकी नी रिप्लेसमेंट सर्जरी (घुटना प्रत्यारोपण) की जाएगी। मंगलवार को उनके सभी रूटीन चैकअप पूरे कर लिए गए, जिनमें वह पूरी तरह स्वस्थ पाए गए हैं।

मैक्स अस्पताल के ऑर्थो सर्जन डॉक्टर अखिलेश यादव उनका ऑपरेशन करेंगे। डॉक्टर अखिलेश ने बताया कि बेनी प्रसाद वर्मा लंबे समय से गठिया की समस्या से जूझ रहे हैं। घुटनों में दर्द रहने के चलते उन्हें चलने में दिक्कत आती थी। ऐसे में अब उनकी नी रिप्लेसमेंट सर्जरी की जाएगी। सूत्रों की मानें तो बुधवार को यह ऑपरेशन किया जा सकता है। इसके एक-दो दिन बाद उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी जाएगी।

दिल्ली-NCR की ताजा खबरों को पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक
 

Posted By: Mangal Yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप