नई दिल्ली, जागरण डिजिटल डेस्क। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (Indian Meteorological Department)  का पूर्वानुमान और भविष्यवाणी एक बार फिर फेल होती नजर आ रही है। दिल्ली-एनसीआर में बारिश नहीं हो रही है, जैसा की पूर्वानुमान जताया गया है। दरअसल दिल्ली-एनसीआर में मानसून सक्रिय तो है, लेकिन अब थोड़ा सुस्त पड़ने लगा है। शायद इसीलिए सोमवार को दिनभर बारिश का इंतजार ही होता रहा। बादल तो कई बार छाए, लेकिन बरसे एक बार भी नहीं। मंगलवार को भी केवल गर्जन वाले बादल बनने का ही पूर्वानुमान है, लेकिन बारिश होने के आसार नहीं है। सोमवार को दिल्ली का अधिकतम तापमान सामान्य स्तर पर 34.3 और न्यूनतम सामान्य से दो डिग्री अधिक 26.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। हवा में नमी का स्तर 61 से 93 फीसद रहा।

इस बीच मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि मंगलवार को बादल छाए रहेंगे। गर्जन वाले बादल बनने के भी आसार हैं, लेकिन बारिश नहीं होगी। इस दौरान अधिकतम एवं न्यनतम तापमान क्रमश: 35 और 26 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है। मौसम विभाग के अनुसार सितंबर के अंतिम तीन दिन अब ज्यादा बारिश के आसार नहीं हैं। हालांकि एक और दो अक्टूबर के लिए मौसम विभाग ने यलो अलर्ट जारी किया है, लेकिन तेज बारिश होने के तो बिल्कुल भी आसार नहीं है। बावजूद इसके दिल्ली-एनसीआर में सुबह और शाम मौसम में ठंडापन महसूस होने लगा है।

बारिश थमी तो बढ़ा प्रदूषण, एयर इंडेक्स 100 के पारबारिश थमते ही दिल्ली एनसीआर में वायु प्रदूषण फिर से बढ़ने लगा है। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) द्वारा जारी एयर क्वालिटी बुलेटिन के अनुसार गुरुग्राम एवं नोएडा को छोड़ दें तो सोमवार को एनसीआर में सभी जगह का एयर इंडेक्स 100 के पार चला गया। हवा की गुणवत्ता संतोषजनक से मध्यम श्रेणी में पहुंच गई। सफर इंडिया का कहना है कि बारिश का दौर थमने से हाल-फिलहाल वायु प्रदूषण की यही श्रेणी बने रहने की संभावना है।

दिल्ली-एनसीआर का एयर इंडेक्स

  • दिल्ली - 108
  • फरीदाबाद - 137
  • गाजियाबाद - 108
  • ग्रेटर नोएडा - 110
  • गुरुग्राम - 95
  • नोएडा - 92

Edited By: Jp Yadav