नई दिल्ली (जेएनएन)। लोकसभा चुनाव 2019 की तैयारियों में जुटी भाजपा कुछ ही देर में दिल्ली के रामलीला मैदान से शंखनाद किया। भाजपा ने इसकी शुरूआत पूर्वांचल महाकुंभ के मंच से की। महाकुंभ में हजारों की संख्या में पूर्वांचल समाज के लोग शामिल होने के लिए पहुंच चुके हैं।

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी भी कार्यक्रम में शामिल होने के लिए पहुंच चुके हैं। भाजपा कई दिनों से पूर्वांचल महाकुंभ को सफल बनाने में जुटी हुई है। इसके अलावा महाकुंभ में पूर्वांचल के कई बड़े भाजपा नेता भी शामिल होने के लिए पहुंच रहे हैं। पूर्वांचल महाकुंभ में उतरी पश्चिमी दिल्ली के सांसद उदित राज ने कहा कि भाजपा ने पूर्वांचल के लोगों का गौरव बढ़ाया है। पहले इन्हें अपमानित किया जाता था। अब इन्हें सम्मान मिलता है।

पूर्वांचल महाकुंभ के बाद अगले एक माह में भाजपा दिल्ली में दो और रैली आयोजित करने जा रही है। भाजपा के अनुसार इस तरह के कार्यक्रम व रैलियों के जरिए वह अपने कार्यकर्ताओं में जोश भरना चाहती हैं, ताकि लोकसभा चुनाव में जीत की राह आसान हो सके।

दिल्ली में सातों सीटें फिर से भाजपा को मिलेंगी: अमित शाह
दिल्ली के रामलीला मैदान में आयोजित पूर्वांचल महाकुंभ में लोकसभा चुनाव का शंखनाद करते हुए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि दिल्ली की सातों लोकसभा सीटें फिर से भाजपा को मिलेंगी। उन्होंने महाकुंभ में जमा लोगों और कार्यकर्ताओं को इसके लिए संकल्प दिलाया।

अमित शाह ने कहा कि पूर्वांचल के लिए भाजपा सरकार ने क्या-क्या किया है, इसका हिसाब देने आया हूं। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के गोरखपुर से काशी तक बहुप्रतीक्षित हाइवे बना गया है। बिहार, झारखंड के विकास के लिए कांग्रेस की केंद्र सरकार ने मात्र चार लाख करोड़ रूपये दिए थे। मोदी सरकार ने इसे बढ़ाकर 13 लाख करोड़ रुपये कर दिया है। इस दौरान अमित शाह ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधते हुए कहा कि उनका एक ही मंत्र है झूठ बोलना।

पूरे देश से घुसपैठियों को चुन-चुन कर निकालेंगे
अमित शाह ने कहा कि देश में करोड़ों की संख्या में घुसपैठिए बैठे हैं। असम में 40 लाख लोगों की प्रथम दृष्टया पहचान हुई है। इनकी जांच होने के बाद इनके नाम मतदाता सूची से निकाले जाएंगे। 2019 में फिर से केन्द्र में सरकार बनने के बाद देशभर से घुसपैठियों को चुन-चुनकर निकाला जाएगा।

अमित शाह ने कहा कि राहुल गांधी और केजरीवाल को भी घुसपैठियों पर अपना पक्ष साफ करना चाहिए। जैसे ही देश के खिलाफ काम करने वालों को जेल में डाला तो राहुल गांधी एंड कंपनी कांव-कांव करने लग गए। मैं तो चाहता हूं कि महागठबंधन बने क्योंकि भाजपा के 11 करोड़ कार्यकर्ता दो-दो हाथ करने को तैयार हैं। मोदी जी बोलते हैं गरीबी हटाओ विपक्ष बोलता है मोदी हटाओ।

महाकुंभ में जमा भीड़ पूर्वांचल का दर्द हैः मनोज तिवारी
महाकुंभ में लोगों को संबोधित करते हुए मनोज तिवारी ने कहा कि यहां जो भीड़ जमा हुई है, वह पूर्वांचल के लोगों का दर्द है। उन्हें इस दर्द का अच्छे से अंदाजा है। उन्होंने कहा कि असम की तरह रोहंगिया और बांग्लादेशियों को भी देश से बाहर निकालने के लिए कानून बने। अपने संबोधन के दौरान मनोज तिवारी ने कई बार भोजपुरी में बोलकर पूर्वांचल के लोगों से सीधा संवाद स्थापित करने का भी प्रयास किया। मालूम हो कि मनोज तिवारी भोजपुरी के बड़े कलाकार हैं। पूर्वांचल में उनके करोड़ों चाहने वाले हैं। लिहाजा महाकुंभ में जुटे लोगों ने मनोज तिवारी के संबोधन को काफी पसंद किया।

मालूम हो कि भाजपा दिल्ली में एक बार फिर से 2014 लोकसभा चुनाव की जीत दोहराना चाहती है। यहां की सभी सातों सीटों पर एक बार फिर से भगवा परचम लहराए, इसके लिए लगातार रणनीति बनाई जा रही है। पार्टी अपने परंपरागत वोट बैंक को बनाए रखने के साथ ही नए लोगों को साथ जोड़ने की रणनीति पर काम कर रही है। उसकी नजर दिल्ली की चुनावी सियासत में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले पूरबिया मतदाताओं पर है।

कांग्रेस व आम आदमी पार्टी के समर्थक माने जाने वाले पूर्वाचल के लोगों को पार्टी अपने साथ जोड़ रही है। उसे उम्मीद है कि प्रसिद्ध भोजपुरी कलाकार मनोज तिवारी को दिल्ली प्रदेश भाजपा का अध्यक्ष बनाए जाने से बिहार, झारखंड व उत्तर प्रदेश के लोगों के बीच पार्टी का जनाधार बढ़ा है। इसे और मजबूत किए जाने की जरूरत है। इसलिए पार्टी रामलीला मैदान से दिल्ली में चुनाव प्रचार का आगाज पूर्वाचल महाकुंभ से किया गया। इस रैली में भीड़ जुटाकर यह संदेश देने की कोशिश कि गई कि पूरबिया लोग अब भाजपा के साथ हैं।

Posted By: Amit Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप