नई दिल्ली, जेएनएन। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद लोग खासे गुस्से में हैं। लोग कश्मीरी युवकों पर हमला करने से भी गुरेज नहीं कर रहे। कुछ युवकों ने दिल्ली से रोहतक जा रही पैसेंजर ट्रेन में शॉल बेचने वाले दो कश्मीरी युवकों पर हमला कर दिया।

मारपीट से घबराए युवक नांगलोई रेलवे स्टेशन पर उतर गए। बताया जाता है कि बाद में लोगों ने कश्मीरी युवकों पर पत्थरबाजी भी की। वे लाखों की कीमत की शॉल ट्रेन में ही छोड़ गए। रेलवे पुलिस ने अज्ञात हमलावरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

रेलवे के पुलिस उपायुक्त दिनेश कुमार गुप्ता ने बताया कि कश्मीरी युवकों से मारपीट करने वालों की पहचान की कोशिश हो रही है। पुलिस के मुताबिक घटना बुधवार सुबह की है। दो शॉल बेचने वाले कश्मीरी युवक करीब पौने ग्यारह बजे दिल्ली से रोहतक जाने वाली पैसेंजर ट्रेन में सवार हुए थे। ट्रेन में सवार युवक कश्मीरी युवकों के साथ पुलवामा हमले को लेकर वाद-विवाद करने लगे।

इसी बीच आपत्तिजनक बात कहने पर डिब्बे में बैठे कुछ युवकों ने शॉल बेचने वाले कश्मीरियों से गाली-गलौच शुरू कर दी और थप्पड़ मार दिया। हमले से घबराए कश्मीरी विक्रेता नांगलोई स्टेशन पर उतर गए। बाद में पीड़ितों ने स्थानीय विधायक की मदद से माकपा नेता वृंदा करात से संपर्क कर उन्हें घटना के बारे में बताया। इसकी सूचना रेलवे पुलिस को दी गई।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस