नई दिल्ली/सोनीपत, जागरण संवाददाता। तीनों केंद्रीय कृषि कानूनों के विरोध में कुंडली बॉर्डर (सिंघु बॉर्डर) पर आंदोलनरत किसानों ने शुक्रवार रात को संदिग्ध गतिविधियों के कारण एक युवक को पकड़ कर पुलिस के हवाले किया। आरोपित युवक का नाम योगेश है। बताया जा रहा है कि किसानों ने जब इस संदिग्ध युवक योगेश से पूछताछ की तो उसने बताया कि वह उपद्रव फैलाने के लिए यहां आया था। उसका आरोप है कि आंदोलन में हिंसा फैलाने के लिए उसे पुलिस की ओर से 10,00 रुपये दिए गए थे। यही नहीं पकड़े गए युवक ने 26 जनवरी के ट्रैक्टर मार्च में गोलीबारी के अलावा उनकी टीम को चार किसान नेताओं को गोली मारने की साजिश का भी खुलासा किया है। मिली जानकारी के मुताबिक, किसानों ने शनिवार सुबह युवक को पूछताछ के बाद हरियाणा पुलिस के हवाले कर दिया। 

इस बीच युवक योगेश के सनसनीखेज खुलासे पर हड़कंप मचा हुआ है। शनिवार सुबह हरियाणा पुलिस का आधिकारिक बयान सामने आया है कि पकड़ा गया युवक योगेश सोनीपत का रहने वाला है। डीएसपी हंसराज ने बताया कि 19 तारीख नवंबर को ही किसानों ने युवक को पकड़ लिया था। युवक का कहना है कि वह दिल्ली में अपने परिवार के सदस्यों से मिलने गया, उस दौरान किसानों ने उसे पकड़ा लिया था। योगेश ने खुद को 9वीं फेल बताया है। वहीं, हरियाणा पुलिस योगेश के हथियार सप्लाई वाले दावे की भी जांच कर रही है। योगेश के कॉल रिकॉर्ड और युवक के सोशल अकाउंट को भी खंगाला जा रहा है।

कृषि कानूनों के विरोध में कुंडली बॉर्डर पर चल रहे किसानों के आंदोलन में हिंसा की साजिश रचने की बात सामने आई है। जीटी रोड पर छह किलोमीटर के दायरे में किसानों का पड़ाव है। शुक्रवार रात किसानों ने बताया कि कुंडली के पास किसानों के टेंट के पास किसी लड़की को छेड़ने की बात कहकर हंगामा कर रहा था। रात को इस तरह की बात सुनकर कुछ किसानों को शक हुआ और उन्होंने युवक को पकड़ लिया। जब उससे सख्ती से पूछताछ की गई तो उसने बताया कि वह यहां यह देखने आया था कि आंदोलनरत किसानों के पास कोई हथियार है या नहीं। वह इसकी रेकी कर रहा है।

'किसानों ने जबरन दिलवाया बयान' कुंडली बॉर्डर पर पकड़े गए योगेश का वीडियो इंटरनेट पर वायरल

 

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप