नई दिल्ली, एएनआइ। Positive India : कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव और खतरे के बीच एक सुखद भी आई है। देश की राजधानी दिल्ली में पहली कोरोना संक्रमित गर्भवती महिला की सफल डिलिवरी हुई है। दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (All India Institute Of Medical Sciences, New Delhi) में कोरोना संक्रमित महिला बच्चे को जन्म देने बाद उपचाराधीन है तो नवजात भी स्वस्थ है। AIIMS के प्रसूति रोग विभाग के 10 डॉक्टरों की एक टीम ने सफलतापूर्वक महिला की डिलिवरी कराई है।

10 डॉक्टरों की टीम ने दिया डिलिवरी को अंजाम

बताया जा रहा है कि गर्भवती महिला के कोरोना वायरस से संक्रमित होने के चलते डिलिवरी थोड़ी जटिल हो गई थी। ऐसे में कुल 10 डॉक्टरों की टीम ने डिलिवरी का फैसला लिया और अंजाम डिलिवरी के बाद जच्चा और बच्चा दोनों स्वस्थ हैं। 

सिजेरियन हुई डिलिवरी

एम्स सूत्रों के मुताबिक, महिला की डिलिवरी की तैयारी हफ्ते भर से चल रही थी। शुक्रवार को महिला की डिलिवरी सिजेरियन तरीके से हुई है। डिलिवरी से जुड़े डॉक्टरों के लिए कोरोना के दौर में इस तरह की डिलिवरी का यह पहला मौका था।

मां कोरोना संक्रमित पर नवजात बिल्कुल स्वस्थ 

डिलिवरी में शामिल डॉक्टरों के मुताबिक, मां तो कोरोना वायरस संक्रमित है, लेकिन नवजात में इस वायरस के कोई लक्षण नहीं हैं। बच्चे को मां का दूध पिलाया जा रहा है। साथ ही यह तर्क दिया जा रहा है कि मां का दूध पीने से किसी बच्चे को कोरोना हुआ है, ऐसा कोई शोध अब तक सामने नहीं आया है। 

चिकित्सा अधिक्षक डीके शर्मा ने बताया कि शुक्रवार रात को गर्भवती महिला ने एक स्‍वस्‍थ बच्‍चे को जन्‍म दिया है। हमारे डॉक्‍टरों ने डिलिवरी प्रकिया के दौरान सभी आवश्‍यक चिकित्‍सा सुरक्षा नियमों का पालन किया। डॉक्‍टर निरजा बाटला के नेतृत्‍व में यह पूरी प्रकिया हुई। बता दें कि महिला के पति पहले से ही एम्‍स में कोरोना का इलाज करवा रहे हैं वह यहां स्‍वास्‍थ्‍य कर्मी के रुप में तैनात हैं।

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस