नई दिल्ली/रेवाड़ी, जागरण संवाददाता। रेवाड़ी में शुक्रवार रात में बारिश हुई। माना जा रहा है कि रबी की सरसों जैसी फसल के लिए इस समय की बारिश उपयोगी रहेगी क्योंकि इस माह के अंत तक सरसों की बिजाई शुरू हो जाएगी। 

उधर, दिल्ली-एनसीआर में भी बारिश की संभावना जताई जा रही है। इसके अलावा हरियाणा और यूपी में भी हल्की बारिश हो सकती है। मौसम विभाग के अनुसार, दिल्ली, रोहतक, चरखी दादरी, पानीपत, गोहाना, सोनीपत और शामली में हल्की बारिश हो सकती है। 

मौसम विभाग के मुताबिक पंजाब में एक कम दबाव का क्षेत्र विकसित हुआ है, जिसकी वजह से शुक्रवार को हल्की बूंदाबांदी की संभावना है। वहीं हिमाचल प्रदेश व उत्तराखंड के मौसम में भी बदलाव आया है। ऐसे में 24 घंटे के दौरान दिल्ली में प्रदूषण में कुछ कमी तो आई है, लेकिन सफर के मुताबिक शनिवार से यह काफी अधिक बढ़ जाएगा।

हवा शनिवार से और ज्यादा खराब हो सकती है। एयर इंडेक्स 350 के भी पार पहुंच सकता है। वजह है हरियाणा, पंजाब और पाकिस्तान में बड़े पैमाने पर पराली जलना। पिछले तीन दिनों के दौरान पराली जलाने की घटनाओं में काफी वृद्धि हुई है। सफर का पूर्वानुमान है कि फिलहाल पराली का धुआं दिल्ली के प्रदूषण में 10 फीसद तक का प्रभाव डाल रहा है, लेकिन हवा का रुख बदलने के कारण अगले दो दिनों में यह 18 फीसद तक पहुंच जाएगा।

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) द्वारा जारी एयर बुलेटिन के अनुसार गुरुवार को दिल्ली का एयर इंडेक्स 284 था। फरीदाबाद में यह 245, गाजियाबाद में 298, ग्रेटर नोएडा में 266, गुरुग्राम में 279 और नोएडा में 283 दर्ज किया गया। इस स्तर की हवा को खराब श्रेणी में रखा जाता है। वहीं, सफर के मुताबिक दिल्ली का एयर इंडेक्स 306 रहा। इस स्तर की हवा बहुत खराब श्रेणी में आ जाती है।

स्काईमेट वेदर के मुख्य मौसम विज्ञानी महेश पलावत का कहना है कि पिछले चार से पांच दिनों से दिल्ली-एनसीआर के साथ-साथ उत्तर-पश्चिमी भारत के कई हिस्सों में हल्की हवा चल रही है। पिछले गुरुवार से निचले स्तर पर दिल्ली-एनसीआर में तेज हवा चल रही है जबकि लगभग पांच हजार फीट की ऊंचाई पर तेज रफ्तार वाली उत्तर-पश्चिमी हवा चल रही हैं। पराली जलने के कारण धुएं के कण ऊपरी हवाओं के साथ दिल्ली आ रहे हैं और धीरे-धीरे निचले स्तर पर आकर हवा में घुलकर प्रदूषण बढ़ा रहे हैं।

दिल्ली-NCR की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

Posted By: JP Yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप