नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। गुमशुदा बच्चों की तलाश के लिए दिल्ली पुलिस लोगों से सहयोग लेगी। इसके लिए गुमशुदा बच्चों की जानकारी लोगों तक पहुंचाने के लिए नगर निगम, मेट्रो स्टेशन और बस अड्डों पर लगीं बड़ी-बड़ी स्क्रीन का इस्तेमाल किया जाएगा। इन स्क्रीन पर गुमशुदा बच्चों की तस्वीर के साथ संक्षिप्त जानकारी दिखाई जाएगी ताकि लोगों के जेहन में गुमशुदा बच्चों की तस्वीरें रहें और कोई भी बच्चा किसी को कहीं भी दिखाई दें तो पुलिस को सूचित किया जा सके।

दिल्ली पुलिस ने एसडीएमसी व मेट्रो रेल कॉरपोरेशन के सहयोग से यह काम शुरू किया है। जल्द ही दिल्ली के ज्यादातर मेट्रो स्टेशन, नगर निगम क्षेत्र, रेलवे स्टेशन और बस अड्डों के अलावा आइजीआइ एयरपोर्ट पर लगी स्क्रीन पर भी गुमशुदा बच्चों की जानकारी प्रसारित किया जाना शुरू होगा।

यहां दिखेगी बच्चों की जानकारी

डीएमआरसी ने केंद्रीय सचिवालय, हौजखास, नई दिल्ली, एयरपोर्ट स्टेशन, कश्मीरी गेट, आइजीआइ एयरपोर्ट पर बड़ी स्क्रीन लगाई हैं। आने वाले दिनों में इन स्क्रीन पर भी गुमशुदा बच्चों की जानकारी दिखाई देनी शुरू होगी। इसके अलावा आनंद विहार बस अड्डा, कश्मीरी गेट बस अड्डा, सराय काले खां बस अड्डा, कनॉट प्लेस, धौला कुआं, दिल्ली कैंट व एम्स अस्पताल पर लगी बड़ी स्क्रीन पर गुमशुदा बच्चों की जानकारी दिखाई जाएगी।

ऐसे पहुंचेगी स्क्रीन पर जानकारी

किसी भी गुमशुदा बच्चे के बारे में जानकारी मिलने के बाद बच्चे का फोटो और उससे जुड़ी जानकारी दिल्ली पुलिस अपनी वेबसाइट पर अपलोड करेगी साथ ही इसकी जानकारी व डाटा नगर निगम, रेलवे और डीएमआरसी और एयरपोर्ट के अधिकारियों को भेज दिया जाएगा। बच्चे के गुमशुदा होने के 24 घंटे बाद तक स्क्रीन पर उस बच्चे के बारे में जानकारी दिखाई जाएगी। यानि 24 घंटे में जितने भी बच्चे गुम होंगे, उन बच्चों के फोटो और जानकारी एक साथ दिल्ली के दर्जनों स्थानों पर दिखाई देगी। इसके अलावा पीसीआर वाहनों में लगे फैबलेट्स पर भी गुमशुदा बच्चों के बारे में जानकारी दिखाई देगी।

पुलिस ने एसडीएमसी व मेट्रो रेल कॉरपोरेशन के सहयोग से शुरू किया काम

दिल्ली हाईकोर्ट में दायर एक याचिका की सुनवाई के बाद यह व्यवस्था शुरू की गई है। फिलहाल दक्षिणी दिल्ली नगर निगम और कुछ मेट्रो स्टेशनों पर लगी स्क्रीन के जरिये जानकारी देने का कार्य शुरू किया गया है। अभी रेलवे, बस अड्डे और नगर निगम के अधिकारियों के साथ बातचीत की जा रही है, जिससे और अधिक स्थानों पर अधिक से अधिक लोगों तक गुमशुदा बच्चों की जानकारी पहुंचाई जा सके।

  यह भी पढ़ेंः दिल्ली में अब गैर PNG इकाइयों पर लगेगा ताला, सिर्फ कुछ इलाकों में ही मिलेगी छूट

AAP ने भाजपा-कांग्रेस और बसपा में लगाई सेंध, पूर्व मेजर समेत कई नेता पार्टी में शामिल 

  दिल्ली-एनसीआर की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

 

Posted By: Mangal Yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप