नई दिल्ली, जेएनएन। सीआर पार्क थानाक्षेत्र के ग्रेटर कैलाश-2 स्थित एक रेस्टोरेंट में खाना खाने गईं तीन महिलाओं के साथ छेड़छाड़ किए जाने का मामला सामने आया है। महिलाओं के बराबर वाली टेबल पर बैठे दो युवकों ने न सिर्फ महिलाओं से छेड़छाड़ की बल्कि विरोध करने पर अश्लील टिप्पणी व इशारे भी किए। रेस्तरां कर्मियों से मदद नहीं मिलने पर महिलाओं ने फोन कर पुलिस में शिकायत की। इस पर आरोपित फरार हो गए।

पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा

शिकायत पर पुलिस ने दो आरोपितों के खिलाफ छेड़छाड़ व धमकी देने का मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक तीनों महिलाएं दक्षिणी दिल्ली की पॉश कॉलोनी में रहती हैं, जिनके पति कारोबारी हैं।

पीछे बैठे युवक ने की छेड़खानी

शनिवार रात करीब 10 बजे ये महिलाएं ग्रेटर कैलाश-2 के एम-ब्लाक मार्केट में स्थित एक रेस्तरां में गई थीं। उनकी टेबल के पीछे वाली टेबल पर दो युवक बैठे थे। खाना खाने के दौरान एक युवक ने महिलाओं की कुर्सी पर हाथ रख दिया। उन्होंने विरोध किया तो दूसरे युवक ने पीड़िता की कुर्सी को धक्का दिया। इसके बाद अश्लील कमेंट व इशारे करने शुरू कर दिए। यह सिलसिला शनिवार रात 10.25 बजे से लेकर 10.40 बजे तक कुल 15 मिनट चला।

नहीं मिली पीड़िताओं को मदद

इस दौरान रेस्तरां के कर्मचारी व वहां मौजूद लोग मूकदर्शक बने रहे। कोई पीड़िताओं की मदद को आगे नहीं आया। विवाद बढ़ने पर एक बार रेस्तरां के मैनेजर ने दोनों युवकों को प्रथम तल पर भेजा, लेकिन वे दोबारा आकर उसी टेबल पर बैठ गए और अश्लील कमेंट व इशारे करने लगे। डीसीपी साउथ अतुल कुमार ठाकुर ने बताया कि शिकायत पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

सीसीटीवी फुटेज से होगी पहचान

सीसीटीवी फुटेज व फोटो के आधार पर आरोपितों को पकड़ने के प्रयास जारी हैं। शुरुआती जांच में दोनों आरोपित गुरुग्राम के रहने वाले इंजीनियर बताए जा रहे हैं।

सोशल मीडिया पर पोस्ट डालकर, दर्द किया बयां

पीड़िताओं में शामिल एक महिला ने सोशल मीडिया पर पोस्ट डालकर दर्द बयां करते हुए रेस्तरां में महिलाओं की सुरक्षा पर सवालिया निशान लगा दिया है। पीड़िता ने रविवार को डाली पोस्ट में रेस्तरां कर्मियों व मौजूद लोगों द्वारा मदद न करने का जिक्र भी किया है। पीड़िता की पोस्ट सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। उसे बड़ी संख्या में लोगों का समर्थन मिल रहा है। सोशल मीडिया पर लोग पीड़िता से मामले में दिल्ली पुलिस कमिश्नर व राष्ट्रीय महिला आयोग से शिकायत करने की बात कह रहे हैं। बदसलूकी करते वक्त एक पीड़िता आरोपितों की फोटो खींच रही थी तो आरोपित बिना डरे अश्लील इशारे करते हुए फोटो खिंचवाने लगे। पीड़िता ने दोनों की फोटो पुलिस को सौंप दी है।

तीन घंटे लगा दिए मुकदमा दर्ज करने में

पीड़िता ने सोशल मीडिया पर डाली पोस्ट में लिखा है कि मुकदमा दर्ज कराने के लिए उन्हें तीन घंटे थाने में बैठना पड़ा। पुलिस को फोन करने के बाद उन्हें थाने बुलाया गया और वहां रात में तीन घंटे तक थाने में बैठाए रखा। तब जाकर मुकदमा दर्ज किया गया।

दिल्‍ली-एनसीआर की खबरों को पढ़ने के लिए यहां करें क्‍लिक

Posted By: Prateek Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप