मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

नई दिल्ली, प्रेट्र। पेट्रोल और डीजल जल्द ही दिल्ली में उत्तर प्रदेश के सीमावर्ती शहरों के मुकाबले सस्ता हो सकता है, क्योंकि स्थानीय कर की संरचना के कारण दिल्ली में इनकी कीमत अधिक तेजी से घट रही है। पारंपरिक रूप से दिल्ली में दोनों ईंधनों की कीमत अधिकतर राज्यों से कम रही है, लेकिन भाजपा शासित राज्यों द्वारा पांच अक्टूबर को वैट में कटौती किए जाने के बाद नोएडा और गाजियाबाद में ये ईंधन सस्ते हो गए।

दिल्ली और यूपी के पड़ोसी शहरों में कीमत का फासला हालांकि काफी घट गया है। पांच अक्टूबर को यह फासला पेट्रोल में प्रति लीटर तीन रुपये से अधिक और डीजल में करीब 2.3 रुपये था, जो अब घटकर क्रमश: 44-57 पैसे और एक रुपया रह गया है।

पेट्रोल की कीमत दिल्ली में मंगलवार को 71.72 रुपये प्रति लीटर थी, जो गाजियाबाद में 71.15 रुपये और नोएडा में 71.28 रुपये थी। डीजल की कीमत दिल्ली में प्रति लीटर 66.39 रुपये प्रति लीटर, गाजियाबाद में 65.31 रुपये और नोएडा में 65.44 रुपये थी। पंप पर रिटेल कीमत तय करने के लिए आधार मूल्य में केंद्रीय उत्पाद शुल्क, डीलर कमीशन और वैट को जोड़ा जाता है। उत्पाद शुल्क प्रति लीटर 17.98 रुपये (पेट्रोल) और 13.83 रुपये (डीजल) है, जो आधार मूल्य में बदलाव से प्रभावित नहीं होता है। अधिकतर राज्यों में वैट हालांकि आधार मूल्य और उत्पाद शुल्क को जोड़ने के बाद उसके प्रतिशत के रूप में लगाया जाता है।

नवंबर में 4 रुपये सस्ता हुआ पेट्रोल, दिल्ली में कीमत पहुंची 75.57 रुपये प्रति लीटर

तेल मार्केटिंग कंपनियों की कीमत सूचना के मुताबिक पेट्रोल पर दिल्ली में वैट 27 फीसद और डीजल पर 16.75 फीसद है। इसके ऊपर 250 रुपये प्रति हजार लीटर की दर से पर्यावरण शुल्क लगता है। उत्तर प्रदेश में वैट की दर पेट्रोल के लिए 23.78 फीसद या 14.41 रुपये (जो भी अधिक हो) और डीजल के लिए 14.05 फीसद या 8.43 रुपये (जो भी अधिक हो) है।

सूत्रों ने कहा कि जब कीमत घट रही है, तब उत्तर प्रदेश में वैट निश्चित राशि के तौर पर लगाई जाती है। क्योंकि वह प्रतिशत के मुकाबले अधिक होती है। इसी वजह से दोनों ईंधनों की कीमत दिल्ली में अधिक तेजी से घट रही है। हालांकि कच्चे तेल की अंतरराष्ट्रीय कीमत बढ़ने की स्थिति में दिल्ली में पड़ोसी राज्यों के मुकाबले कीमत कम होने की संभावना पर पानी फिर जाएगा।

Posted By: Amit Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप