नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। बॉलीवुड को बदनाम करने व प्रमुख फिल्मी हस्तियों के खिलाफ गैरजिम्मेरदाना और अपमानजनक रिपोर्टिंग करने को लेकर दायर याचिका पर दिल्ली हाई कोर्ट में सोमवार को सुनवाई हुई।  इस दौरान दिल्ली हाई कोर्ट ने संबंधित न्यूज चैनलों को नोटिस जारी किया है। इस पर चैनलों को 14 दिसंबर तक जवाब देना है। सोमवार को कोर्ट ने मीडिया घरानों से एजीआर आउटलेयर मीडिया और बेनेट कोलमैन एंड कंपनी से यह सुनिश्चित करने के लिए कहा कि सोशल मीडिया पर कोई भी अपमानजनक सामग्री अपलोड न हो इसके साथ उनके चैनलों पर प्रदर्शित भी नहीं हो। 

सलमान खान, करण जौहर, अजय देवगन, आमिर खान और शाहरुख खान समेत 34 बड़े फिल्म प्रोडक्शन हाउस और 4 फिल्म एसोसिएशन ने याचिका में आरोप लगाया गया है कि बॉलीवुड इंडस्ट्री  को बदनाम करने के इरादे से ऐसा किया गया। इतना ही नहीं, बॉलीवुड फिल्म कलाकारों के खिलाफ गैरजिम्मेरदाना और अपमानजनक रिपोर्टिंग भी की गई, जो असहनीय है। 

बता दें कि यह याचिका रिपब्लिक टीवी, टाइम्स नाउ और उनके एडिटर्स व पत्रकारों के खिलाफ दिल्ली हाईकोर्ट में याचिका दायर की गई है। इस याचिका में यह भी कहा गया है कि ऐसा लगता है कि बॉलीवुड कलाकारों के खिलाफ मीडिया ट्रायल चलाया जा रहा है और स्टार्स की निजता के अधिकार के साथ हस्तक्षेप पर भी दखल दी जा रही है।

यहां पर बता दें कि बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजूपत ने 14 जून को अपने मुंबई स्थित फ्लैट में आत्महत्या कर ली थी। हालांकि, बाद में सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो ने जांच शुरू की थी, जो अब तक जारी है। इस बीच नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने कई खुलासे करते हुए ड्रग्स मामले में आरोपित सुशांत सिंह की गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती को गिरफ्तार किया था। आरोप है कि इस दौरान टेलीविजन न्यूज चैनलों ने एक तरफा रिपोर्टिंग करते हुए बॉलीवुड को बदनाम किया।

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप