नई दिल्ली, राज्य ब्यूरो। दिल्ली में होम आइसोलेशन में रहकर इलाज ले रहे कोरोना संक्रमितों के लिए दिल्ली सरकार द्वारा दिल्ली की योगशाला कार्यक्रम के तहत शुरू की गई आनलाइन योग कक्षाओं से कोरोना के मरीजों की रोग प्रतिरोधक क्षमता (इम्युनिटी) तेजी बढ़ रही है और वे तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं। आनलाइन योग कक्षा के जरिये कोरोना संक्रमितों के अकेलेपन को खत्म कर उनके मानसिक स्वास्थ्य को भी बेहतर बनाया जा रहा है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा 11 जनवरी को इस कार्यक्रम की आधिकारिक घोषणा की गई थी।

क्या है आनलाइन योग कक्षा : दिल्ली सरकार होम आइसोलेशन कर रहे कोरोना से संक्रमितों की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए उन्हें निश्शुल्क आनलाइन योग कक्षा उपलब्ध करवा रही है। यहां विशेष रूप से प्रशिक्षित योग प्रशिक्षक द्वारा मरीजों को योग करवाया जा रहा है। कार्यक्रम के तहत कोरोना संक्रमित पाए गए लोगों को दिल्ली सरकार का स्वास्थ्य विभाग एक लिंक भेजता है। इस लिंक के जरिये संक्रमित व्यक्ति आनलाइन योग कक्षा के लिए पंजीकरण कर सकते हैं।

मरीज का अनुभव

  • मैं डाक्टर हूं और पहले से ही योगाभ्यास करती रही हूं। इस महीने जब मुङो कोरोना हुआ तो मैंने दिल्ली सरकार की आनलाइन योग कक्षा ज्वाइन की। यहां मुङो सरकार द्वारा नियुक्त योग प्रशिक्षक द्वारा बेहद सरल और सहज तरीके से योग के वे आसन सिखाए गए, जिसके माध्यम से हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ सके, क्योंकि कोरोना का यह वैरिएंट फेफड़ों पर असर करता है।- डा. मुनेश कसाना (माउंट कैलाश, ईस्ट आफ कैलाश)

प्रशिक्षक का बयान

  • योग और प्राणायाम कोरोना के समय शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को बेहतर बनाए रखने का सबसे कारगर उपाय है। कोरोना की तीसरी लहर में देखा गया है कि संक्रमण के ज्यादातर मामलों में लोगों को बहुत ही मामूली लक्षण हैं जिनका घर पर रहकर ही इलाज किया जा सकता है। लोग जल्दी ठीक हों और तनाव न लें, इसके लिए दिल्ली सरकार ने निश्शुल्क योग कक्षाएं शुरू की हैं। इसमें सहयोग करके खुशी मिल रही है। - अमरेश झा, योग प्रशिक्षक

Edited By: Pradeep Chauhan