नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। निचली अदालत व हाई कोर्ट द्वारा दिए गए अंतरिम आदेश जोकि 19 अप्रैल या उसके बाद समाप्त होने वाले हैं कि अवधि दिल्ली हाई कोर्ट ने 16 जुलाई तक के लिए बढ़ा दी है। न्यायमूर्ति विपिन सांघी, न्यायमूर्ति रेखा पल्ली एवं न्यायमूर्ति तलवंत सिंह की पीठ ने कहा कि हाई कोर्ट ने अपने व जिला अदालतों को केवल अत्यावश्यक मामलों की ही सुनवाई करने को कहा है। पीठ ने कहा कि दिल्ली में लागू किए गए कर्फ्यू के कारण अधिवक्ता व वादी उन अदालतों में पेश नहीं हो पाएंगे, ऐसे में अतंरिम आदेश पारित किया गया है।

पिछले वर्ष भी लाकडाउन घोषित होने के बाद हाई कोर्ट ने अंतरिम आदेश पारित किया था, जिसकी समयावधि को कई बार बढ़ाया गया था। हालांकि, पीठ ने मंगलवार को अपने आदेश में स्पष्ट किया कि यदि सुप्रीम कोर्ट इस मामले में कोई विपरीत आदेश नहीं देता है तो अंतरिम आदेश 16 जुलाई या इस संबंध में लागू आगामी आदेश तक लागू रहेंगे। उसने यह भी कहा कि यदि अंतरिम आदेश की अवधि आगे बढ़ाने से किसी पक्षकार को मुश्किलें पेश आती हैं तो वे उचित राहत पा सकते हैं।

संक्रमण के साथ बढ़ रहे हैं नियम उल्लंघन के मामले

वहीं, राजधानी में लगातार कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ते जा रहे हैं। इसके बावजूद लोग नियमों का उल्लंघन करने से बाज नहीं आ रहे हैं। दो से लेकर 13 अप्रैल तक दिल्ली पुलिस 24,589 लोगों का मास्क न लगाने पर चालान कर चुकी है, जबकि पुलिस ने 505 ऐसे लोगों को पकड़ा है जो शारीरिक दूरी का पालन नहीं कर रहे थे। सख्ती के बाद भी लोग रात्रि कफ्र्यू का उल्लंघन कर रहे हैं और बिना मास्क के घर से निकल रहे हैं। इससे न केवल वे खुद कोरोना संक्रमण की चपेट में आने का खतरा उठा रहे हैं, बल्कि अन्य लोगों के लिए भी खतरा बन रहे हैं।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021