नई दिल्‍ली, जागरण संवाददाता। ओखला के हरिकेश नगर में सीवर टैंक में सफाई करने उतरे 2 सफाईकर्मी में से एक की मौत हो गई है। वहीं 1 की हालत गंभीर बताई जा रही है। सफाईकर्मी की मौत के बाद वहां कुछ देर के लिए अफरातफरी मच गई। इसके बाद आनन-फानन में इन्‍हें अस्‍पताल ले जाया गया। जहां एक को मृत घोषित कर दिया गया वहीं 1 की हालत गंभीर है।

जहरीली गैस की चपेट में आ गए थे कर्मी

ओखला इलाके के हरिकेश नगर गांव में बुधवार सुबह सीवर प्लांट में रिपेयरिंग के लिए उतरे दो कर्मचारी जहरीली गैस की चपेट में आ गए। दमकलकर्मियों ने लैंडर के जरिये उन्हें बाहर निकाला। इनमें से एक की मौके पर ही मौत हो गई थी। वहीं, एक को गंभीर अवस्था में अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। ओखला थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।

दमकल की टीम ने पहुंच कर शुरू किया राहत

दक्षिणी-पूर्वी दिल्ली जिले कि पुलिस उपायुक्त आरपी मीणा ने बताया कि बुधवार सुबह 11.15 बजे पुलिस को सूचना मिली थी कि सीवर प्लांट की सफाई के दौरान दो लोग उसमें गिर गए हैं। स्थानीय पुलिस मौके पर पहुंची और दमकल की टीम ने मौके पर पहुंचकर राहत कार्य शुरू किया।

सफाई का काम ठेके पर

ओखला फायर स्टेशन के इंचार्ज फूलसिंह मीणा के नेतृत्व में हवलदार मोहन, फायर ऑपरेटर पंकज कुमार, जितेंद्र, रोहित व नवीन आदि की टीम ने लैंडर की मदद से प्लांट में प्रवेश किया और सुरेश उर्फ सोनू (40) व जसबीर (43) को प्लांट से बाहर निकाला। अस्पताल ले जाने पर डॉक्टरों ने सोनू को मृत घोषित कर दिया। जसबीर का इलाज चल रहा है। जहां हादसा हुआ है वह प्लांट दिल्ली जलबोर्ड का है और यहां सफाई का काम ठेके पर दिया गया है।

प्‍लांट में चल थी रिपेयरिंग 

सोनू व जसबीर के साथी कर्मचारी मुरारी (35) ने पुलिस को बताया कि सोनू की दिन में ड्यूटी थी। बुधवार सुबह वह प्लांट में रिपेयरिंग करने उतरे थे। वहां वह जहरीली गैस की चपेट में आकर बेहोश हो गए। उन्हें बचाने जसबीर उतरे और वह भी बेहोश हो गए। दोनों को बचाने मुरारी नीचे उतरे उतरे लेकिन गैस ज्यादा होने के चलते वह ज्यादा नीचे नहीं जा पाए। उनके शोर मचाने पर वहां मौजूद उनके साथी पहुंच गए जिनकी मदद ने मुरारी प्लांट से सुरक्षित बाहर आ गए।

Posted By: Prateek Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस