नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। Odd Even again in Delhi: प्रदूषण से जूझ रही दिल्‍ली में एक बार फिर ऑड इवेन लागू हो सकता है। सरकार को लगता है कि जनवरी में अगर प्रदूषण के खिलाफ संतोषजनक परिणाम नहीं आता है तो एक बार फिर से दिल्‍ली वालों को ऑड इवेन लागू हो सकता है। इस बार नए साल की शुरुआत में ही ऑड-इवेन जनवरी में फिर लागू हो सकता है। हालांकि इसके लिए चुनाव आयोग से अनुमति लेनी होगी। क्योंकि, उस समय दिल्ली में चुनाव आचार संहिता लागू होगी।

सरकार का दावा है कि ऑड-इवेन से प्रदूषण घटा है और जाम से भी मुक्ति मिली है। इस बार तीसरी बार यह लागू किया गया है। रविवार को यह योजना लागू नहीं थी और सोमवार व मंगलवार को भी लागू नहीं रहेगी। प्रकाश पर्व के कारण दिल्‍ली सरकार ने इससे दिल्‍लीवासियों को छूट दी है।  

नहीं लग रहा जाम

दिल्ली में एक बड़ा बदलाव भी जनता देख रही है। लोगों को जाम की समस्या से जूझना नहीं पड़ रहा है। इस बार चालान बहुत कम काटे गए हैं। इस बारे में यातायात पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि लोग वाहनों के कागजात पूरे लेकर चल रहे हैं और इस योजना के नियम का उल्लंघन करने के मामले भी कम आ रहे हैं।

पहली बार ही सरकार लोगों को समझाने में रही कामयाब

सबसे पहले इसे 2016 में एक जनवरी से 15 जनवरी तक लागू किया गया था। दिल्ली सरकार लोगों को यह समझाने में कामयाब रही थी कि यह योजना उन्हीं के लिए लागू की जा रही है।

2016 के अप्रैल में लगा था दूसरी बार

इसके बाद इसी साल 16 अप्रैल से 30 अप्रैल तक लागू किया गया था। हालांकि दूसरी बार पहली बार जितनी सफलता नहीं मिली थी, क्योंकि इस वक्त स्कूल खुले थे। गर्मी और शादियों के चलते भी कुछ समस्या आई थी।वहीं इस बार चार नवंबर से 15 नवंबर तक लागू रहेगा। वही इस दौरान 11 और 12 को सरकार इससे लोगों को छूट देकर थोड़ी राहत दी है। बता दें कि 12 नवंबर को गुरुपर्व है। वहीं  इससे पहले 11 नवंबर को श्रद्धालु नगर कीर्तन निकालेंगे। इस दौरान सिख श्रद्धालुओं को परेशानी न हो इसलिए दिल्ली सरकार ने यह फैसला लिया है।

प्रकाश पर्व की तैयारी जोरों पर, सज गए गुरुद्वारे; सोमवार को निकलेगा नगर कीर्तन

दिल्‍ली-एनसीआर की खबरों को पढ़ने के लिए यहां करें क्‍लिक

Posted By: Prateek Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप